बाबाओं के लिए भारतियों की अंधभक्ति

भारत एक विविधताओं का देश हैं. आए दिन ट्रेंड में होने वाली चीजों में से एक नाम बाबओं का भी सामने आता है. आए दिन कोई ना कोई बाबा सामने निकल कर आता है जिसके प्रति लोगों की अंधभक्ति देखकर होश उड़ जाते हैं. सुर्खियों में छाने वाले बाबाओं में एक बात समान होती है जो है उनके द्वारा किया घिनौना. घिनौने काम से तात्पर्य महिलाओं के प्रति उनकी घटिया सोच.

बाबाओं के बारे में बात की जाए तो कई सारे बाबाओं में सबसे पहला नाम राम रहीम का निकल कर सामने आता है. राम रहीम हाल ने हाल ही के दिनों में मीडिया से लेकर सोशल मीडिया में अपनी ऐसी तस्वीर बना ली थी कि उतारे नहीं उतर रही थी. राम रहीम को लेकर उनके अंधभक्तों की भक्ति भी देखने वाली थी. बाबा के जेल जाने से नाराज उसके अंधभक्तों ने इस प्रकार आगजनी मचा दी थी करोड़ों रुपए की संपत्ति बर्बाद हो गई थी. बाबा पर साध्वियों के साथ रेप का बेहद ही संवेदनशील आरोप लगा था. आरोप के बाद जब राम रहीम को कोर्ट में ले जाया जा रहा था तो सुरक्षा इतनी कड़ी थी की पुलिस के भी पसीने छूट गए थे. जिस वक्त राम रहीम को सिरसा से पंचकूला स्थित सीबीआई कोर्ट लेकर जाया जा रहा था तो उसका रास्ता रोकने और पुलिस की मुश्किलें बढ़ाने के लिए राम रहीम के अंधभक्तों द्वारा काफी आगजनी मचाई गई थी.

राम रहीम पर फैसला सुनाए जाने के बाद आगजनी मचाई गई थी. लेकिन अब नंबर उसकी सबसे बड़ी राजदार हनीप्रीत का था. राम रहीम को सजा सुनाए जाने के बाद से ही हनीप्रीत को पुलिस ढूंढने में लगी हुई थी. लेकिन कई दिनों तक हनीप्रीत पुलिस के शिकंजे से फरार रही थी. इस बीच पुलिस ने सिरसा स्थित डेरे को भी खंगाला था. डेरे में तलाशी लेने के बाद पता लगा था कि राम रहीम ने डेरे के अंदर अपनी एक अलग ही दुनिया बसा रखी थी. डेरे के अंदर वह सारी सुख सुविधाएं थी जोकि एक पांस सितारा होटल में होती हैं. यहां तक की डेरे के अंदर राम रहीम ने ताज महल से लेकर दुनिया के सभी अजूबे बना रखे थे. खैर राम रहीम के साथ हनीप्रीत तथा अन्य आरोपियों को उसके किए की सजा मिल रही है.

राम रहीम, रामपाल, आसाराम, बाबा नित्यानंद आदि हैं. लेकिन हाल ही में सामने आए बाबा के बारे में बात हो तो वीरेंद्र देव दीक्षित का नाम भी सामने आता है. दिल्ली के उत्तम नगर में विश्वविद्याल की आड़ में महिलाओं के शरीर से खेला करता था. जानकारी है कि महिलाओं को बिना कपड़े होने के लिए कहता था. वह उन्हें कहता था और अपने आप को वीरेंद्र देव दीक्षित भगवान श्री कृष्ण का रूप बताता था. अपने आप को भगवान का रूप बताकर उसने कई सारी महिलाओं का रेप किया. इसके साथ ही वह कहता था कि भगवान की इच्छा है कि वह और भी कई हजार महिलाओं के साथ शारीरिक संबंधों को स्थापित करेगा.

जैसा की पहले ही बताया गया था कि भारत विविधताओं का देश है. अलग अलग चीजों के साथ ट्रेंड करने वाली चीजों के साथ बाबाओं का नाम आए दिन सुर्खियों में रहता है. लेकिन इस सब से भी बड़ी चीज लोगों द्वारा उन घिनौने बाबाओं की अंधभक्ति है. अंधभक्ति के कारण जहां एक तरफ राम रहीम के समर्थकों द्वारा हाल ही में करोड़ों रुपए की संपत्ति का नुकसान किया गया तो दूसरी तरफ कोई पाखंडी बाबा अपने आप को भगवान का रूप बताकर महिलाओं का शोषण करता रहा. सवाल यह है कि इन पाखंडियों के लिए इस प्रकार की अंधभक्ति आखिर क्यों? आखिर कब तक इस प्रकार लोग इन पाखंडियों की अंधभक्ति करते रहेंगे ? इस सब के बीच गौरतलब करने वाली बात यह भी है कि ऐसे पाखंडी बाबा आए दिन सामने आते रहते हैं लेकिन फिर भी लोगों में इनका क्रेज इतना ज्यादा बढ़ रखा है कि सब कुछ जानते हुए भी वह अपनी आंखों के सामने अंधभक्ति की पट्टी डाल लेते हैं और इस तरह के पाखंडी खुले आम अपराध करने में सफल हो जाते हैं.

ils
Pradeep Sharma

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here