एक बार फिर सुर्खियों में छाई यूपी पुलिस, बेगुनाह को गोली मारने का आरोप

एक तरफ यूपी पुलिस एनकाउंटर के जरिए बदमाशों और अपराधों पर लगाम लगाने में जुटी है. तो दूसरी तरफ यूपी पुलिस की मुहिम को देखते हुए लोग भी इसकी तारीफ कर रहे हैं. देखा जाए तो दूसरी और नोएडा में पुलिस की हरकतें आम नागरिकों को परेशान भी कर रही हैं. बीते जनवरी के महीने नोएडा पुलिसकर्मी पर एक मामूली सा आरोप लगा था और अब ताजा मामले में आरोप है कि नोएडा के सेक्टर 122 में एक ASI ने अपने प्रमोशन के लिए युवक की गर्दन और दूसरे के पैर में गोली मार दी. मामले के तूल पकड़ते हैं आरोपी ASI को गिरफ्तार कर लिया गया है.

नोएडा के फोर्टिस अस्पताल में जिंदगी और मौत से लड़ रहा जितेंद्र के परिवार का आरोप हैं की रात में फर्जी एनकाउंटर की कोशिश की गई थी. जितेंद्र पृथला गांव में एक जिम चलाता है और उसका कोई भी क्रिमिनल रिकॉर्ड नहीं है. गोली जितेंद्र के गले में लगी और रीड की हड्डी में अटक गई है. इस मामले में डीआईजी लाभ कुमार का कहना है कि मामले की निष्पक्ष जांच हो रही है.

जितेंद्र के परिवार वालों का कहना है कि यूपी पुलिस ने एनकाउंटर चलाया और जितेंद्र को गोली मार दी. उनका कहना है जितेंद्र को गोली महज जाति की वजह से मारी गई है. इस खबर के फैलने के बाद अस्पताल के बाहर काफी संख्या में ग्रामीण और जितेंद्र के परिजन जुट गए हैं. जनता के आक्रोश को देखते हुए अस्पताल के बाहर भारी संख्या में पुलिस बल तैनात किया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here