सूबे में कानून व्यवस्था बनी बीजेपी के लिए गले की फांस

सूबे में योगी सरकार आने के बाद क्राइम को रोकने के तमाम दावे किए गए थे लेकिन अब वही दावे योगी सरकार के लिए सिर कार दर्द बनी हुई है. राजधानी लखनऊ में खुद अपराध कम नहीं हो रहा है तो बाकी जगह की बात तो दूर की बात है. ऐसे में समाजवादी पार्टी की तरफ से लगातार योगी सरकार पर हमला बोला जा रहा है. योगी सरकार की तरफ से कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस को हाथों को पूरी तरह से खोला गया है जिसके बाद पिछले 10 महीनों में पुलिस द्वारा 921 एनकाउंटर किए जा चुके हैं.

up law order akhilesh yadav samajwadi party attack in bjp yogi adityanath   up law order, akhilesh yadav, samajwadi party, attack, bjp, yogi adityanath
yogi adityanath

आंकड़ों के हिसाब से बात की जाए तो 31 अपराधियों को मारा जा चुका है 196 घायल हुए हैं इसके अलावा हजारों की तादाम में अपराधियों को गिरफ्तार किया गया है. लेकिन इन आंकड़ों के सामने आने के बाद भी सूबे में अपराध कम नहीं हो रहा है और पिछले एक हफ्ते में राजधानी लखनऊ से कई सारी डकैती की वारदात सामने आई हैं. इस मामले में जानकारी है कि पुलिस डकैतों पर अभी तक नकेल नहीं कस पाई है. जिसके बाद कानून व्यवस्था को आधार बनाकर समाजवादी पार्टी की तरफ से योगी सरकार को घेरा जा रहा है. सपा की तरफ से लगातार कानून व्यवस्था पर योगी सरकार पर हमला किया जा रहा है.

समाजवादी पार्टी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव द्वारा योगी सरकार पर गंभीर सवाल उठाया गया है. अखिलेश यादव का कहना है कि राज्यपाल का टाइपराइटर छुट्टी पर चला गया है. कुछ दिनों पहले अखिलेश यादव का प्रतिनिधिमंडल राज्यपाल राम नाइक से भी मिला था. गुरुवार को पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा है कि लगातार सूबे में कानून व्यवस्था बिगड़ती ही जा रही है. उन्होंने कहा है कि कानून व्यवस्था को सुधारने का ठेका बीजेपी ने लिया था लेकिन जब से सूबे में बीजेपी सरकार आई है तब से सूबे में ऐसी घटनाओं को अंजाम दिया गया है जोकि यूपी के इतिहास में पहले कभी भी नहीं हुई हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here