पुलिसकर्मियों ने सेना के जवान पर बरसाई लाठियां

एक तरफ जहां सेना के जवान अपनी जान पर खेलकर देश की सरहदों की रक्षा करते हैं तो दूसरी ओर हमारे देश की पुलिस शायद ही अपना कर्तव्य निभाने में ईमानदारी रखती हो. ऐसा ही सेना के जवान को अपमानित करने वाला वाक्या यूपी की गोण्डा पुलिस द्वारा किया गया. मामला जमीनी विवाद का है. विवादित जमीन पूजा करने से नाराज कुछ लोगों ने पुलिस को फोन कर सूचित किया और मौके पर पहुंचे एक नही बल्कि दोनों दारोगाओं ने बिना कुछ सुने व समझे ही जवान की लाठी-डंडों से जमकर पिटाई कर डाली. पुलिस द्वारा बुरी तरह से पिटाई करने के कारण जवान के शरीर पर चोट के गहरे निशान बन गए। पिटाई के दौरान फौजी पुलिसकर्मियों के सामने गिड़गिड़ाता रहा लेकिन दरोगाओं ने उसकी एक भी नही सुनी और जमकर जवान पर लाठी बरसाईं.

Police personnel, set on fire, army personnel, up police, indian army

जानकारी है कि जवान कश्मीर के श्रीनगर में तैनात था. जवान कुछ दिनों की छुट्टी लेकर घर आया हुआ था. पीड़ित जवान का नाम राम नारायण बताया जा रहा है. सुबह के समय जवान घर के पास की विवादित जमीन पर पूजा करने के लिए गया और वहां पूजा करने लगा तो इतने में ही विपक्षियों ने गोण्डा के तरबगंज थाने पर पुलिस को फोन कर इसकी सूचना दी. सूचना पाकर पुलिस मौके पर पहुंचे पुलिस. विवादित जमीन पर पूजा करने से नाराज दरोगा संतोष कुमार व राम चन्द्र गौतम ने जवान पर लाठियां बरसानी शुरु कर दी. लेकिन इस दौरान जवान जमीन पर गिर गया और तापडता रहा.

पिटाई से जवान के पूरे शरीर पर गहरे चोट के निशान पड़ गए. जवान की इतनी बुरी तरह से पिटाई की गई कि पूरा शरीर नीला पड़ गया. पुलिस द्वारा जवान की पिटाई की खबर पूरे जिले में फैल गई जिससे जिले वर्तमान व पूर्व सैनिकों में रोष लहर दौड़ गई. पूर्व सैनिक और वर्तमान अन्य सैनिकों ने दरोगा की शिकायत व दोनों दरोगाओं के खिलाफ कार्रवाई की मांग को लेकर एसपी कार्यालय में घेर डेरा डाल दिया. एसपी कार्यालय में काफी देर तक इंतजार करने के बाद सेना के जवानों ने एसपी उमेश कुमार सिंह से मुलाकात कर लिखित में दोनों दरोगा के विरुद्ध शिकायत की. एसपी ने खाकी पर कालिख पोतने वाले इस प्रकरण को संज्ञान में लेते हुए मीडिया को बताया कि फौजी के द्वारा चौकी इंचार्ज पर पिटाई का आरोप लगाया गया है जिसकी जांच एडिशनल एसपी को सौंप दी गई है फिलहाल पूरे मामले की जांच की जा रही है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here