5 मिनट की मुठभेड़ के बाद मारा गया, 3 दिन तक मचाई थी दहशत

कई दिनों तक तबाही मचाने के बाद राजधानी लखनऊ में शुक्रवार सुबह करीब 5 बजे तेंदुए का आतंक खत्म हो गया. जानकारी है कि तेंदुआ सीमेंट की पाइप लाइन से निकाल कर एक घर में घुस गया था, जहां घर वालों की तरफ से लाइसेंस रिवाल्वर उसे तेंदुए पर गोली चलाई गई और इसकी सूचना पुलिस को दी गई. जिसके बाद इंस्पेक्टर त्रिलोकी सिंह मौके पर पहुंचे.

लेकिन इस दौरान तेंदुए ने उन्हें घायल कर दिया घायल अवस्था में इंस्पेक्टर की तरफ से तेंदुए पर गोली चलाई गई और गोली लगने के कारण तेंदुए की कमरे में ही मौत हो गई. इस दौरान 15 मिनट के अंदर करीब 12 राउंड गोलियां चलाई गई. पूरा मामला औरंगाबाद इलाके का है. जहां सुबह करीब 5 बजे सीमेंट की पाइप लाइन में बने जाल से तेंदुआ घर के अंदर घुस गया और रास्ते में 4 लोगों को घायल कर दिया.

जानकारी है कि 3 दिन से औरंगाबाद इलाके में करीब 5,000 लोग तेंदुए की दहशत में जी रहे थे. वहीं तेंदुए को अपनी जान पर खेलकर आने वाले इंस्पेक्टर को 50,000 का इनाम दिया गया है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here