तेजप्रताप और तेजस्वी एक बार फिर से सुर्खियों में छाए

एक बार फिर लालू के दोनों बेटे तेजस्वी यादव और तेजप्रताप यादव चर्चा में है. इस बार चर्चा का विषय आरजेडी द्वारा बुलाए गए बंद को लेकर है. दरअसल बिहार सरकार के बालू और गिट्टी की बिक्री पर फैसले के खिलाफ आरजेडी ने बिहार बंद का आव्हान किया था.

इसी बंद को लेकर तेजस्वी और तेजप्रताप यादव अपने सैकड़ों समर्थकों के साथ सड़क पर उतरे. इस दौरान आरजेडी समर्थकों ने जगह-जगह रोड पर ट्रैफिक जाम कर दिया. इसी जाम में एक एंबुलेंस भी फस गई जिसमें एक महिला मरीज थी. इस जाम के चलते महिला मरीज की मौत हो गई. बता दे बीती रात हुए चीनी मिल हादसे में महिला जख्मी हुई थी. जिसको इलाज के लिए हाजीपुर से पटना गांधी सेतु से ले जाया जा रहा था. लेकिन आरजेडी कार्यकर्ताओं के विरोध प्रदर्शन के चलते घायलों को ले जा रही एंबुलेंस गांधी सेतु पर लगे जाम में फंस गई. जिसके चलते उस महिला की मौत हो गई.

आरजेडी समर्थक यहीं नहीं रुके शेखपुरा में उन्होंने गया क्यूल पैसेंजर ट्रेन को स्टेशन पर ही रोक दिया और उसके आगे विरोध प्रदर्शन करने लगे. इसके अलावा जहानाबाद में आरजेडी समर्थकों ने पटरियों पर आगजनी की और इसके साथ पटना रांची जनशताब्दी ट्रेन को रोक दिया. आरा सासाराम स्टेट हाईवे,आरा में धराधर पुल पर भी जाम की सूचना मिली है.

आपको बता दें नीतीश सरकार ने अवैध खनन के खिलाफ कार्रवाई करते हुए बीते दिनों गंगा और दूसरी नदियों से चल रहे अवैध खनन पर रोक लगाई थी जिसके विरोध में आरजेडी ने पूरे राज्य में बंद का आव्हान किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here