नई दिल्लीः भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने उच्च मुद्रास्फीति को नियंत्रित करने के लिए अपनी नीतिगत दरें (policy rates) बढ़ा दी है। बैंक भी सूट का पालन कर रहे हैं और लोन पर ब्याज दरों में वृद्धि कर रहे हैं। ऐसे में कर्जदार अब सस्ता लोन की तलाश कर रहे हैं। इसी को लेकर यहां हम आपको बताएंगे कि कैसे एक अच्छा सिबिल स्कोर आपको एक सस्ता लोन दिला सकता है और एक अच्छा स्कोर कैसे बनाए रख सकते हैं।

सिबिल स्कोर और लोन स्वीकृति

सिबिल रिपोर्ट में स्कोर और अन्य क्रेडिट विवरण होते हैं। बैंक सिबिल रिपोर्ट की जांच करने के बाद उधारकर्ता के पुनर्भुगतान अनुशासन का पता लगाते हैं। यह व्यक्ति के क्रेडिट जोखिम प्रोफाइल की एक झलक भी देता है, जिसके आधार पर बैंक निर्णय लेते हैं कि ऋण जारी करना है या नहीं।

लगभग 79 प्रतिशत ऋण उन लोगों को स्वीकृत किए जाते हैं जिनका सिबिल स्कोर (CIBIL Score) 750 और उससे अधिक है। ट्रांसयूनियन सिबिल की रिपोर्ट के अनुसार, अधिक सिबिल स्कोर होने से न केवल आवेदक के लिए लोन प्राप्त करना आसान हो जाता है, बल्कि उसे अपेक्षाकृत कम ब्याज दर पर लोन भी मिल जाता है।

एक बैंकिंग विशेषज्ञ ने कहा, ‘कर्ज पर ब्याज दर सभी कर्जदारों के लिए तय नहीं है। बैंक कई प्रकार की ब्याज दरों की पेशकश करते हैं और यह दर उधारकर्ताओं के जोखिम प्रोफाइल पर आधारित होती है। उधारकर्ताओं के लिए कम ब्याज दर के मानदंडों में से एक उनकी क्रेडिट रेटिंग है। उदाहरण के लिए, एक बैंक होम लोन पर 7.40-7.70 प्रतिशत की सीमा में ब्याज दर की पेशकश कर सकता है, जो उधारकर्ता के जोखिम प्रोफाइल सहित विभिन्न कारकों पर निर्भर करता है।”

आरबीआई की मौद्रिक नीति समिति ने पिछले हफ्ते सर्वसम्मति से आवास की वापसी पर ध्यान देने के साथ रेपो रेट को 50 आधार अंक बढ़ाकर 4.90 प्रतिशत करने का निर्णय लिया है। इसके बाद आईसीआईसीआई बैंक, एचडीएफसी और पंजाब नेशनल बैंक सहित कई बैंकों ने अपने होम लोन की ब्याज दरें बढ़ा दी हैं।

सिबिल स्कोर क्या होता है?

सिबिल स्कोर (CIBIL Score) तीन अंकों की संख्या है। आपके पास जितना अधिक स्कोर होगा, उतना ही बेहतर होगा। आमतौर पर, 750 से ऊपर के स्कोर को अच्छा माना जाता है, जहां लोन अप्रूवल की संभावना अधिक हो जाती है। यह आपके क्रेडिट इतिहास का एक संख्यात्मक सारांश है और आपकी क्रेडिट प्रोफ़ाइल का प्रतिबिंब है, जो एक उद्धारकर्ता के रूप में आपके क्रेडिट व्यवहार को दर्शाता है। इससे यह भी पता चलता है कि क्या आपने पहले कभी किसी पुनर्भुगतान में चूक की है। यह स्कोर आपकी साख और इतिहास का समग्र संकेत देता है।

आप अच्छा सिबिल स्कोर कैसे बनाए रख सकते हैं?

यदि आप एक अच्छा सिबिल स्कोर बनाए रखना चाहते हैं, तो सबसे पहले और सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि चुकौती के साथ सख्त होना चाहिए। समय के भीतर भुगतान करें और कभी भी देरी न करें। ऋण या क्रेडिट कार्ड की बकाया राशि का भुगतान आपके सिबिल स्कोर पर बहुत बड़ा प्रभाव डालता है।

Sandhya Agrawal

एक 23 वर्षीय लेखक/पत्रकार, जो व्यावसायिक (Business) पत्रकारिता के लिए गहरी रुचि रखते...

Leave a comment

Your email address will not be published.