World Cup के इतिहास में 2-0 से फ्रांस ने उरुग्वे को पहली बार हराया

फ्रांस आखिरी बार 2006 में सेमीफाइनल में पहुंचा था। तब उसने पुर्तगाल को हराकर फाइनल में भी जगह बनाई थी।

  • रफाएल वरान ने अपना तीसरा अंतरराष्ट्रीय गोल किया, तीनों हेडर से ही आए
  • विश्व कप और यूरो चैम्पियनशिप के पिछले 6 नॉकआउट मैच में ग्रीजमैन का यह 7वां गोल है
  • पहली बार इस विश्व कप में 4 मैचों के बाद उरुग्वे ने कोई गोल नहीं किया

नोवगोरोद (रूस).फ्रांस इस फुटबॉल World Cup के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली टीम बनी। क्वार्टर फाइनल में उसने उरुग्वे को 2-0 से हराया। फ्रांस ने छठी बार विश्व कप के आखिरी 4 में जगह बनाई है। वहीं उरुग्वे 1966 के बाद क्वार्टर फाइनल में पहली बार हारी। मैच में फ्रांस के लिए 40वें मिनट में रफाएल वरान ने गोल किया। उन्होंने एंटोनी ग्रीजमैन की कॉर्नर किक पर हेडर से गेंद को गोलपोस्ट में पहुंचाया। 61वें मिनट में ग्रीजमैन ने दूसरा गोल किया। ग्रीजमैन ने बॉक्स के बाहर से शॉट मारा और गेंद उरुग्वे के गोलकीपर फर्नांडो मुसलेरा के हाथ से लगकर गोलपोस्ट में चली गई। इस विश्व कप में पहली बार ग्रीजमैन ने बॉक्स के बाहर से गोल किया है। इससे पहले उन्होंने दोनों गोल पेनल्टी से किए थे।

फ्रांस ने इस विश्व कप में तीन दक्षिण अमेरिकी टीम को हराया:

फ्रांस किसी एक विश्व कप में तीन दक्षिण अमेरिकी टीम को हराने वाले दूसरा देश बना। उसने इस बार पेरू, अर्जेंटीना और उरुग्वे को हराया। इससे पहले नीदरलैंड ने 1974 में ऐसा किया था। तब उसने उरुग्वे, अर्जेंटीना और ब्राजील को हराया था। साथ ही फ्रांस ने नॉकआउट दौर में 6 बार दक्षिण अमेरिकी टीमों के खिलाफ खेला और 5 बार जीत हासिल की है। सिर्फ 1 बार 1958 विश्व कप के सेमीफाइनल में उसे ब्राजील ने हराया था।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here