इटली के फैंस को लगा सदमा

साल 2017 इटली में एक कयामत के रूप में आया है, ऐसा इसलिए क्योंकि वर्ष 1958 के बाद ऐसा पहला मौका है जब इटली फीफा वर्ल्ड कप में क्वालीफाई नहीं कर पाया। बीती रात सेन सीरो में खेले गए इटली और स्वीडन का मैच ड्रा रहा। इससे पहले खेले गए पहले चरण में भी इटली ने ज्यादा गोल करने में कामयाब नहीं रही। टीम का एकमात्र गोल ही हुआ था वह भी इटली के खिलाडी जेकब योहानसन ने करा था। इटली का वर्ल्ड कप से बाहर होने का असर उनके फैंस पर भी साफ देखा जा सकता है। कहीं मीडिया चेनल्स और अखबारों के आज के हैडलाइन में इटली का सारा दर्द बयां कर रही है। एक फैन हो तो ट्विटर पर यह तक लिख डाला ”वर्ल्ड कप वैसा ही है, जैसे बिना चीज का पिज्जा”।

ITALY FANS

अगर आप क्रिकेट के फैन है तो इसे ऐसा समझ लीजिए कि अगले साल वर्ल्डकप तो होगा लेकिन भारतीय टीम उसमें शामिल नहीं होगी। यह ठीक वैसी ही स्थिति है कि श्रीलंका , बांग्लादेश या अफगानिस्तान जैसी टीमों ने भारत को हरा दिया हो और वर्ल्ड कप में क्वालीफाई करने से रोक दिया हो। ऐसा नहीं है इटली पहली बार वर्ल्ड कप में क्वालीफाई नहीं कर पाया। इस से पहले ऐसे दो मौके और हैं। जब इटली क्वालीफाई नहीं कर पाई है। सबसे पहला मौका आया 1930 पर जब इटली किसी वर्ल्ड कप क्वालीफाई नहीं कर पाई थी। उसके बाद मौका आया साल 1958 में जहां वह एक बार फिर क्वालीफाई नहीं कर पाई और अब इतने वर्षों बाद साल 2017 में भी चार बार की चैंपियन टीम इटली क्वालीफाई करने में नाकाम रही।अगले साल होने वाले रूस वर्ल्ड कप में इटली टीम नज़र नहीं आएगी>

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here