IND vs SL: पहली पारी में श्रीलंका को मिला 180 का लक्ष्य

भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे पहले टी-20 मुकाबले में भारत ने पहले बैटिंग करते हुए 180 रन बनाए हैं. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को शुरुआती झटका रोहित शर्मा के रूप में लगा. रोहित शर्मा 17 रन बनाकर पवेलियन की ओर चलते बने. जिसके बाद खेलने आए श्रेयस अय्यर और ओपनर के एल राहुल ने पारी को संभाला.

IND vs SL: पहली पारी में श्रीलंका को मिला 181 का लक्ष्य india vs srilanka india put 181 target for sri lanka india vs srilanka, india put 181 target, sri lanka, dhoni, cricket match, srilanka भारत और श्रीलंका के बीच खेले जा रहे पहले टी-20 मुकाबले में भारत ने पहले बैटिंग करते हुए 180 रन बनाए हैं. पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत को शुरुआती झटका रोहित शर्मा के रूप में लगा. रोहित शर्मा 17 रन बनाकर पवेलियन की ओर चलते बने. जिसके बाद खेलने आए श्रेयस अय्यर और ओपनर के एल राहुल ने पारी को संभाला. दोनों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. लेकिन नुवान प्रदीप के एक शानदार गेंद पर श्रेयस अय्यर कवर की तरफ शॉट मारने के चक्कर में विकेट कीपर को कैच दे बैठे. उसके बाद खेलने आए पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने धीमी शुरुआत की और पहली 10 गेंदों में धोनी महज 11 रन ही बना सके. इस दबाव के चलते केएल राहुल बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में कप्तान परेरा का शिकार बने. एक बार तो ऐसा लगा कि टीम इंडिया के शायद डेढ़ सौ रन भी नहीं बन पाएंगे. लेकिन महेंद्र सिंह धोनी और मनीष पांडे की आतिशी पारी ने भारत को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया. मैच का टर्निंग पॉइंट 19 वें ओवर में आया जब नुवान प्रदीप ने 5 गेंदों पर तीन रन दिए लेकिन आखिरी बॉल उन्होंने नोबॉल दे दी जिसमें मनीष पांडे ने छक्का जड़ दिया. नौबॉल के कारण मनीष पांडेय को फ्री हिट दे दी गई. ऐसे में उन्होंने शानदार शॉट लगाते हुए 4 रन अर्जित किए. इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 68 रनों की पार्टनरशिप की वह भी महज 34 गेंदों पर. मैच पर ओस का प्रभाव भी देखने को मिला. श्रीलंका बॉलर बार-बार गेंद को सुखाते हुए नजर आए. ऐसे में देखने वाली बात होगी कि भारत जो दो रिस्ट स्पिनर के साथ खेल रहा है क्या वह इस टारगेट को बचा पाएगा.
dhoni

दोनों ने शानदार बल्लेबाजी करते हुए भारत का स्कोर 100 रन के पार पहुंचाया. लेकिन नुवान प्रदीप के एक शानदार गेंद पर श्रेयस अय्यर कवर की तरफ शॉट मारने के चक्कर में विकेट कीपर को कैच दे बैठे. उसके बाद खेलने आए पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने धीमी शुरुआत की और पहली 10 गेंदों में धोनी महज 11 रन ही बना सके. इस दबाव के चलते केएल राहुल बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में कप्तान परेरा का शिकार बने.

एक बार तो ऐसा लगा कि टीम इंडिया के शायद डेढ़ सौ रन भी नहीं बन पाएंगे. लेकिन महेंद्र सिंह धोनी और मनीष पांडे की आतिशी पारी ने भारत को एक सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया.

मैच का टर्निंग पॉइंट 19 वें ओवर में आया जब नुवान प्रदीप ने 5 गेंदों पर तीन रन दिए लेकिन आखिरी बॉल उन्होंने नोबॉल दे दी जिसमें मनीष पांडे ने छक्का जड़ दिया. नौबॉल के कारण मनीष पांडेय को फ्री हिट दे दी गई. ऐसे में उन्होंने शानदार शॉट लगाते हुए 4 रन अर्जित किए. इन दोनों ने चौथे विकेट के लिए 68 रनों की पार्टनरशिप की वह भी महज 34 गेंदों पर. मैच पर ओस का प्रभाव भी देखने को मिला. श्रीलंका बॉलर बार-बार गेंद को सुखाते हुए नजर आए. ऐसे में देखने वाली बात होगी कि भारत जो दो रिस्ट स्पिनर के साथ खेल रहा है क्या वह इस टारगेट को बचा पाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here