सितारगंज: युवक को दिखा बाघ, मचा बवाल

सितारगंज के खटीमा हाईवे रोड के पुराने चिकाघाट पुल के पास खेतो में शौच करने गए युवक ने एक बाघ को देखा. बाघ को देखने के बाद ही युवक ने चिल्लाना शुरु कर दिया जिस वजह से बाघ वहां से भाग गया. बाघ के वहां पर होने की सूचना तुरन्त ही युवक ने वन विभाग को दी. मौके पर पहुंची वन विभाग की टीम बाघ की खोज में जुट गई है. चिकाघाट गांव में बाघ आने की सूचना पर ग्रामीणों में दहशत का माहौल.

सितारगंज के पास खटीमा रोड पर कैलाश नदी पर बने पुराने चिकाघाट पुल के पास बुधवार सुबह खेतो में शौच करने गए उमेश सिंह राणा ने अचानक बाघ को देखा तो घबराकर हो हल्ला कर दिया जिसपर बाघ वहां से भाग खड़ा हुआ. उमेश सिंह राणा चिकाघाट निवासी सरदूल सिंह के यहां नौकरी करता है. हो हल्ला सुन काफी ग्रामीण इक्कठे हो गए और बाघ के पैरों के निशान देखने लगे. जिसके बाद वन विभाग को इसकी सूचना दी जिस पर वन विभाग बराकोली की टीम मौके पर पहुंची और बाघ के पैरों के निशानों के फिगर प्रिंट लिए.

वहीं वन विभाग के रेंजर प्रदीप कुमार का कहना है कि ग्रामीणों की सूचना पर हमने अपनी टीम भेजी थी जो बाघ के पैरो के फिगर प्रिंट लायी है. जिसकी जांच की जा रही है. बाघ कितना बड़ा व मैल या फीमेल में कौंन है. वही वन विभाग के एक्सपर्ट लगाए जा रहे है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here