मसूरी में फूंका गया पुतला, जानें क्या है वजह

जम्मू कश्मीर में गढ़वाल राइफल पर हत्या का मुकदमा दर्ज करने के खिलाफ मसूरी में हिन्दु जागरण मंच के कार्यकर्ताओं ने मसूरी भट्टा गांव चौक पर एकत्रित हुए और जम्मू कश्मीर की सरकार के खिलाफ जमकर प्रदर्शन कर रोष जताया और पूतला फूफा. शनिवार सुबह हिन्दु जागरण मंच अध्यक्ष कुलदीप जदवान के नेतृत्व में मसूरी भट्टा गांव के चौक पर एकत्र कार्यकर्ताओं ने शहीद जम्मू कश्मीर सरकार के खिलाफ आक्रोश प्रकट किया और जमकर नारेबाजी की.

कुलदीप जदवान ने कहा की गढ़वाल राइफल की अपनी लम्बी गौरवगाथा रही है. सेना के सभी अभियान व कार्यों पर पूरे देश को गर्व है. ऐसे में अलगाववादियों और पाक समर्थित उपद्रवियों से निपटते हुए सेना पर जो आरोप लगा है, वह पूरी तरहा से गलत है और बेबुनियाद है.

सेना पर लगा आरोप महबूबा मुफ्ती सरकार की मानसिकता की पोल खोलने वाला है. उन्होंने कहा की राज्य के मान सम्मान तथा गौरव पर कुठाराघात करने वाली इस घटना का हिन्दु जागरण मंच पुरजोर तरीके से विरोध करता है. कुलदीप जदवान ने कहा की सैकड़ों अलगाववादियों और पत्थरबाजों की भीड़ से निपटने के लिए हुई कार्रवाई पर गढ़वाल राइफल के मेजर पर मुकदमा दुर्भाग्यपूर्ण है. उन्होंने भारत सरकार से मांग की है, सेना के अधिकारियों से तत्काल दर्ज केसो को हटाकर उन अधिकारियों को सम्मानित किया जाए व भविष्य में इस प्रकार की ओछी राजनीति भारतीय सेना के ऊपर ना हो.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here