भविष्य से खिलवाड़ करने पर, तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

सितारगंज के भिढ़ोरा के नव भारत प्राइवेट आईटीआई में पड़ने वाले छात्रों ने प्रबंधन पर उनके भविष्य से खिलवाड़ करने का आरोप लगाते हुए एसडीएम को सम्बोधित ज्ञापन तहसीलदार को सौंपा और कार्यवाही की मांग की. जिसपर तहसीलदार ने ज्ञापन एसडीएम को भेज जांच पर उचित कार्यवाही का भरोसा दिया.

छात्रों का कहना है कि वर्ष 2016 में हैल्थ सेनेटरी इंस्पैक्टर कोर्स के लिए उन्होंने नव भारत प्राइवेट आईटीआई में उन्होंने प्रवेश लिया था. जिसकी परीक्षाएं दो सेमेस्टर में हुई. प्रथम समेस्टर पास करने के बाद द्वितीय समेस्टर में दो प्रश्नपत्र होने थे लेकिन स्कूल प्रबंधन द्वारा उन्हें कहा गया कि आपकी केवल एक प्रश्नपत्र की परीक्षा होनी है. जिसका सेंटर टनकपुर आईटीआई रखा गया था और प्रबंधन द्वारा उन्हें एक प्रश्नपत्र के बाद वापिस बुला लिया गया. लेकिन उन्हें बाद में पता चला की परीक्षा दो प्रश्नपत्रों में हुई जिसको लेकर पूर्व में भी प्रबंधन से जब इसके बारे में बात की गई तो उन्होंने अपनी गलती मानते हुए द्वितीय समेस्टर निशुल्क एक माह में करवाए जाने की बात कही थी और जब तीन माह बाद पेपरों की डेट आई तो इस बार उनका सेंटर दिनेशपुर आईटीआई में था.

पेपर की दिनांक 10 फरवरी 2018 बतायी गई और दो बजे समय बताया गया और जब छात्र परीक्षा दिने पहुंचे तो पता चला की पेपर तो 10 बजे था, जिसपर उन्हें देरी से पहुंचने पर पेपर में बैठने की अनुमति नहीं मिली. उसके बाद में पता चला की जो प्रवेश पत्र उन्हें दिए गए थे, वह भी फर्जी है. जबकि प्रवेश पत्र ऑनलाइन निकल रहे थे. जिसके चलते उनके दो साल बर्बाद हो गए हैं. वही प्रबंधन द्वारा उनसे 20 हजार रूपये कोर्स कराने के नाम पर ले लिए, जिसकी उन्हें कोई रसीद भी नहीं दी गई . उन्होंने प्रबंधन के खिलाफ कार्यवाही करने की मांग की हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here