मसूरी में रिक्शा चालकों की हड़ताल खत्म

मसूरी में नगर पालिका परिषद और होटल एसोसिएशन द्वारा मसूरी में गोल्फ कार चलाने के विरोध में मसूरी रिक्शा चालकों और मजदूर युनियनों के कार्यकर्ताओं द्वारा पालिका और होटल एसोसिएशन के खिलाफ धरना प्रदर्शन और भूख हड़ताल की गई थी. जिसके बाद नगर पालिका अध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल द्वारा पालिकाध्यक्ष के कैम्प कार्यलाय मसूरी माउट रोस पर रिक्शा चालकों के साथ बैठकर उनको अवगत कराया गया कि नगर पालिका परिषद द्वारा मसूरी में किसी प्रकार की गोल्फ कार नहीं चलाई जा रही है.

जिसके बाद रिक्शा चालकों द्वारा अपनी हडताल को वापस ले लिया गया. पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल ने कहा कि रिक्शा चालकों के हितो को देखते हुए मसूरी में ई-रिक्शा चलाने को लेकर कवायद कि जा रही है, लेकिन वह भी तभी संभव है जब रिक्शा चालक अपनी सहमति जताऐंगे. उन्होंने कहा की नगर पालिका परिषद हमेशा रिक्शा चालकों के हितो को ध्यान में रखकर उनको अपग्रेड करना चहाती है. लेकिन कुछ रिक्शा चालक राजनीति का शिकार हो रहे है. उन्होंने कहा की रिक्शा चालक और मजदूर एसोसिएशन अपनी मागों को एक मांग पत्र प्रशासन स्तर पर भेजे जिससे उनकी मसूरी में ई-रिक्शा लाने की मांग को पूरा किया जा सके. वहीं सभी रिक्शा चालकों को लेकर नीति बनाई जा सके जिससे सभी रिक्शा चालकों को समायोजित किया जा सके.

मसूरी रिक्शा चालकों के सदस्य विजय सिंगवान ने बताया कि मसूरी में रिक्शा चालक गोल्फ कार का विरोध कर रहे है. वही उनके पुराने साइकिल रिक्शा के बादले इ-रिक्शा चहाते है. जिससे पर्यटकों को बेहतर सुविधा के साथ रिक्शा से आने जाने में लगने वाले समय को भी बचाया जा सकेगा. उन्होंने बताया कि पिछले दिनों गढ़वाल कमीश्नर और आटीओं द्वारा ई-रिक्शा मसूरी के कई रूटो का स्थानीय निरिक्षण किया गया था, लेकिन अभी तक विभागीय स्थर पर सहमति नहीं बन पाई है. वहीं अधिकारियों का कहना है कि एक इ-रिक्शा में चार रिक्शा चालक समायोजित हो लेकिन यह संभव नहीं है, क्योंकि आज के समय में भाई- भाई में नहीं बनती तो ओरो के साथ कैसे बनेगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here