पोस्टर और बैनरों ने किया मसूरी को बदरंग

नगर निकाय के चुनाव अप्रैल में होने प्रस्तावित है लेकिन चुनाव में प्रतिभाग करने वालों के द्वारा जनता के समाने अपने दावेदारी करने के लिए एक अनुठां अंदाज अपनाया है. सभी सम्भावित प्रत्याषियों द्वारा अपने अपने क्षेत्र को नववर्ष और अगामी त्यौहारों को लेकर शुभकामनाओं के पोस्टरों बैनरों से पाट दिया गया है व सभी नियमों को ताख पर रखकर सड़कों, मुख्य चैहराओं के साथ सरकारी और पाईवेट इमारतो को पोस्टरों और बेनरों से भर कर उनकी दशा को खराब कर दिया गया है. जिससे मसूरी के पर्यावरण के साथ सुंदरता नष्ट हो रही है. लेकिन संबधित नगर पालिका प्रशासन के साथ स्थानीय प्रशासन के आला अधिकारियों के द्वारा इस संबध में आंख बद कर रखी है.

posters and banners have done the dirty mussoorie uttarakhand, mussoorie, bjp, congress, poters, banners
posters

जिससे लोगो में प्रशासन के खिलाफ खासा आक्रोष व्याप्त है. उनकी माने तो पोस्टरों बैनरों के माध्यम से समाज के ठेकेदार आज जनता को नए साल की शुभाकमनाएं देकर वोटरों को अपनी ओर आकर्शित करने का काम कर रहे है. जबकि इनमें से 95 प्रतिशत दावेदारों का समाजिक सरोकारों से कभी नाता ही नही रहा है. उन्होंने कहा कि कुछ लोग जनता को बेवकूफ समझते है, वह भी जानते है कि पिछले चार सालों में किसी प्रकार कि बधाई संदेश ना देने वाले आज चुनाव आते ही पूरी मसूरी को पोस्टरों बैनरों के बधाई संदेश पोस्टरों से पाट रहे है और अपने आप को समाजिक कार्यकर्ता बता रहे है. उनकी माने तो जनता सब जानती है और ऐसे लोगों को अगामी चुनाव में जबाब देने का काम करेगी.

वहीं स्थानीय लोगों ने मसूरी के स्थानीय प्रशासन के साथ नगर पालिका प्रशासन के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है. स्थानीय निवासी मदनमोहन शर्मा, विजय रमोला ,राजेन्द्र रावत, ललित मोहन काला की माने तो संबधित अधिकारियों द्वारा मसूरी में चल रहे अवैध कामों को लेकर अपनी आखें बद कर रखी है. मसूरी को आए दिनों पोस्टरों बैनरों के माध्यम से बदरंग किया जा रहा है लेकिन ना ही कोई भी अधिकारी इस दिशा में देखने को तैयार नहीं है. ऐसे में उन अधिकारियों की कार्य प्रणाली पर भी सवाल खड़े होते है सोचने को तैयार नहीं है ऐसे में उच्च अधिकारियों को ऐसे लापरवाह अधिकारियों के खिलाफ सख्त कारवाई करनी चाहिए.

मसूरी पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल ने कहा कि मसूरी को बदरंग करने का अधिकार किसी को नहीं है. ऐसे में स्थानीय प्रशासन और पालिका प्रशासन के अधिकारियों को इसको लेकर गंभीर होना चाहिए. उन्होंने जल्द मसूरी एसडीएम से वार्ता कर मसूरी में बिना अनुमति के पोस्टर बैनर लगाने वालों के खिलाफ सख्त कानूनी कारवाई करने की मांग की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here