मसूरी: विवादों में आया टाइगर

मसूरी में विवादों में घिरे रहने वाले मशहूर एक्टर सलमान खान की मुश्किलें बढ़ती दिख रही हैं. उनके द्वारा एक टीवी शो में मसूरी में वाल्मीकि समाज उत्थान सभा मसूरी और भारतीय दलित साहित्य अकादमी मसूरी के सयुक्त तत्वाद्यान में बॉलीवुड एक्टर सलमान खान व शिल्पा शेट्टी द्वारा एक टीवी चैनल के शो के दौरान वाल्मीकि समाज के लोगो के लिये जातीसूचक शब्द का प्रयोग के खिलाफ जमकर विरोध प्रर्दशन किया गया.

वहीं मसूरी गुरूद्वारा चैक से मसूरी झूलाघर तक विरोध रैली निकालकर दोनो के खिलाफ जमकर नारेबाजी की. वह मसूरी के झूलाघर चौक मे दोनों के पुतले को आग के हवाले कर जोरदार नारेबाजी की दोनो ही संगठनो के लोग मसूरी एसडीएम मसूरी के माध्यम से राष्टपति महोदय को ज्ञापन भेजकर दोनो ही एक्टरो के खिलाफ अनुसूचित जाती एक्ट 1989 का उल्ंलघन्न करने पर उनके खिलाफ सम्पूर्ण वाल्मीकि समाज एससीएसटी एक्ट के तहत कार्यवाही करने की मांग की. उन्होंने कहा कि अगर उनकी मांग को पूरा नही किया गया तो व अपने आदोंलन को उग्र रूप् देगें, जिसकी जिम्मेदारी शासन-प्रशासन की होगी. वहीं वाल्मीकि समाज उत्थान सभा मसूरी और भारतीय दलित साहित्य अकादमी मसूरी के कार्यकर्ता मसूरी के रिटस सिनेमा हाल पंहुचे और वहां भी जमकर नारेबाजी करी. हाल में सलमान खान और शिल्पा शेट्टी के पोस्टरों को उतार कर आग के हवाले किया और हाल में चल रहे सलमान खान के शो को रूकवा दिया और सिनेमा हाल प्रबधन को दोनो की एक्टरो की फिल्म को ना चलाने का आग्रह किया.

वाल्मीकि समाल के अध्यक्ष राजेन्द्र घावरिया, मनोज कुमार ढिगिया, विजेन्द्र मचल, अशोक कुमार टांक, राजकुमार, मुकेश लुक्से, रज्जू, विनोद गोडियाल, आशीष, फूल कुमार, संदीप, प्रवीन आदि ने कहा कि बॉलीवुड एक्टर सलमान खान व शिल्पा शेट्टी द्वारा एक टिवी चैनल के शो के दौरान वाल्मीकि समाज के लोगो के लिये जातीसूचक शब्द का प्रयोग किया गया. जिससे देश के वाल्मीकि एवं सम्पूर्ण दलित समाज के लोगो के साथ आम जनता में दोनों ही एक्टरों की अभद्र टिप्पणी के खिलाफ आक्रोश व्याप्त है. वहीं दोनो सलमान खान और शिल्पा शेट्टी के खिलाफ अनुसूचित जाती एक्ट 1989 का उंल्लघन्न करने पर उनके खिलाफ सम्पूर्ण वाल्मीकि समाज एससीएसटी एक्ट के तहत कार्यवाही करने की मांग की हैं और मांग पूरी ना होने पर अपने मान सम्मान की रक्षा करने के लिये सम्पूर्ण वाल्मीकि समाज के साथ अन्य समाज के लोग भी उग्र आदोंलन करने को वाध्य होगे जिसकी सम्पूर्णा जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here