मसूरी में बढ़ता लोगों का आक्रोश, जानिए क्या है मामला

मसूरी मसोनिक लाज बस स्टेड के पास डिमरी निवास पर पूर्व में पार्किंग निर्माण के जगह पर अनाधिकृत रूप से किए जा रहे कब्जे को हटाने के लिये गई नगर पालिका परिषद की टीम को डिमरी निवास में रह रहे करीब 50 परिवारों का आक्रोश झेलना पडा है. लोगों के आक्रोश को देखते हुए पालिका और पुलिस की टीम को वापस लौटना पड़ा. क्षेत्र की पालिका कि सभासद शशि रावत ने पालिका प्रशासन और अध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल पर उनके क्षेत्र के लोगों और अतिक्रमण का हटाने के नाम पर परेशान करने कर आरोप लगाया.

उन्होंने कहा कि जहां पूरी मसूरी में पालिकाध्यक्ष के चहाने वाले दिन रात अतिक्रमण कर पालिका की जमीन को कब्जाने का काम कर रहे हैं वह पालिका के अधिकारियों ने आंख बंद कर जी है. जबकि कई बार उनके द्वारा लिखित में शिकायत की गई है. उन्होंने पालिका अध्यक्ष अगमी पालिका के चुनाव को देखते हुए दाव खेलने का काम कर रहे हैं लेकिन ऐसा होगा नहीं है क्योंकि जनता जानती है कि किसने पालिका में रहे कर भ्रष्टाचार और घोटाले को अंजाम दिया है.

डिमरी निवास पर रहने वाले गौरव गुप्ता, रमाकिशन राही और देवी गोदियाल ने कहा कि पिछले 7 सालों से पार्किंग निर्माण का कार्य रूका हुआ है. वह पूर्व पालिकाध्यक्ष ओपी उनियाल ने उनको लिखित में पार्किंग स्थल पर कमरे बनाकर देने का आश्वासन दिया था परन्तु वर्तमान पालिकाध्यक्ष ने उसपर कोई कार्रवाई नहीं की जिसको देखते हुए कमरे के लिए परेशान लोगों ने अपने आप ही कमरों का निर्माण शुरू कर दिया. जिसको पालिका अवैध बता रही है. उन्होंने कहा कि पालिका प्रशासन की शह से मसूरी के कई क्षेत्रों में अवैध निर्माण कर बड़े बड़े भवन बन गए परन्तु पालिका को वह नजर नही आता. उन्होंने कहा कि पहले मसूरी में हो रहे अवैध कब्जा को हटाने की कार्रवाई पालिका प्रशासन करें तब जाकर वह उनके क्षेत्र को देखें.

मसूरी नगर पालिका परिषद के कर अधिक्षक गिरीश चंद सेमवाल ने कहा कि मसूरी डिमरी निवास पार्किंग स्थल पर कुछ लोगों द्वारा अनाधिकृत रूप् से कब्जा कर निर्माण किया जा रहा था. जिसकी शिकायत मिलने पर मसूरी एसडीएम द्वारा पालिका प्रशासन को तत्काल काम रोकने के साथ अवैध रूप से किए गए निर्माण का घ्वस्त करने के निर्देष दिये गए थे जिसे अनुपालन में पालिका की टीम डिमरी निवास पहुंची परन्तु स्थानीय लोगों द्वारा स्वयं अवैध निर्माण को रोकने के साथ हटाने पर पालिका की टीम वापस चली गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here