मसूरी का नवनिर्मित घंटाघर लोकार्पण से पहले विवादों में

मसूरी नगर पालिका परिषद द्वारा कई लाखों खर्च कर बनाया गया मसूरी का घंटाघर लोकार्पण से पहले विवादों की भेंट चढता नजर आ रहा है. मसूरी में उच्च न्यायालय के निर्देशों के बाद मसूरी नगर पालिका परिषद द्वारा पूर्व में स्थापित घंटाघर के स्थान पर नए घंटाघर का निर्माण करवाया गया है. वह घंटाघर के चारों ओर नई तकनीकों से बनाई गई विशाल घडियों को लगाया गया जिसको अभी कुछ ही हफते हुए हैं. इन दिनों में हर घंटे में मसूरी का घंटाघर की इलेक्ट्रोनिक घंटा भी बज रहा था. लेकिन घटिया गुणवक्ता के कारण हाल में लगी घड़ी खराब हो गई है.

newly built belfry in disputes before launch in Mussoorie

घंटाघर के चारों ओर लगी घड़ियां अलग अलग समय दे रही हैं वह घंटा बजने के समय घड़ी में समय कुछ और चल रहा है जिस कारण नवनिर्मित घंटाघर के निर्माण के समय बरती गई लापरवाही साफ तौर कर उभर कर लोगों के सामने आ रही है. लोगों ने एक बार फिर नगर पालिका परिषद में भ्रष्टाचार का आरोप लगाते हुए कहा कि अगर समय समय पर बनाए घंटाघर के निर्माण की गुणवत्ता को जांचा जाता तो आज यह स्थिति पैदा ना होती. पालिकाध्यक्ष मनमोहन सिंह मल्ल ने बताया कि कुछ तकनीकि खराबी के कारण घंटाघर की में लगी घड़ियां गलत समय बता रही हैं जिसको जल्द ठीक करवा लिया जाएगा.

मसूरी के इतिहासकार गोपाल भारद्वाज ने बताया कि मसूरी अग्रेजों के द्वारा बसाई गई थी और उनके द्वारा 1890 में मसूरी के मेथोडित चर्च पर लगाई गई थी. लेकिन 1905 में आए भुकंप में वह घ्वस्त हो गया था जिसके बाद मसूरी के लंढौर क्षेत्र में घंटाघर का निर्माण 1939 में किया गया था और अश्ठधातू से बना घंटे के साथ घडिया लंदन से मंगवाकर लगवाई गई थी. वह मसूरी को घंटाघर अपने आप में अद्भूत था लेकिन कुछ समय पहले पालिका प्रशासन द्वारा उसको तोड़ दिया था जिसके बाद वह विवादों में पड़ गया वह अब हाईकोर्ट के निर्देशों के बाद वर्तमान पालिका प्रशासन द्वारा घंटाघर का निर्माण करवाया गया जिसमें इलेक्ट्रौनिक घडिया लगवाई गई हैं.

 

अन्य बड़ी खबरें

सितारगंज में एसएसपी ने किया सलाना औचक निरीक्षण

139 करोड़ के श्रम घोटाले की हो सीबीआई जांच- तिलकराज कटारिया

मसूरी का नवनिर्मित घंटाघर लोकार्पण से पहले विवादों में

अमिताभ का बढ़ा कांग्रेस से प्यार, क्या है उनकी मंशा

एसडीएम ने किया औचक निरीक्षण, दिए जरूरी दिशा निर्देश

बदरूद्दीन अजमल ने कहा- BJP से AIUDF आगे बढ़ रही है तो बिपिन रावत को चिंता क्यों ?

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here