लक्सर पुलिस के फिर लगे स्टार

लक्सर कोतवाली में आयोजित प्रेस वार्ता में वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कृष्ण कुमार ने पत्रकारों को बताया कि जनपद में इन दिनों मोटरसाइकिल चोरों ने आतंक मचा रखा था. इसी के मद्देनजर हरिद्वार जनपद में सभी थानाध्यक्षों को निर्देश दिए गए थे कि वह अपने-अपने क्षेत्रों में वाहन चेकिंग कर इन चोरों को पकड़ कर सलाखों के पीछे करें.


इसी क्रम में लक्सर कोतवाली पुलिस बालावाली तिराहे पर वाहनों की चेकिंग कर रही थी. तभी एक बिना नंबर प्लेट के मोटरसाइकिल आती दिखाई दी. जिस पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक त्रिवेंद्र सिंह राणा लिखा था. जब मोटरसाइकिल सवार को रुकने का इशारा किया तो मोटरसाइकिल सवार वापिस उसी दिशा में भागने लगे, जिस दिशा से वह आ रहे थे. मोटरसाइकिल सवार को भागते देखते हुए लक्सर कोतवाली पुलिस ने मोटरसाइकिल का पीछा शुरू किया, तो थोड़ी ही दूर पर मोटरसाइकिल सवारों को पकड़ लिया और जब उनसे मोटरसाइकिल के कागजात दिखाने को कहे तो उन लोगों के पास मोटरसाइकिल के कागज नहीं मिले. जिस पर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक ने जब उन लोगों की तलाशी कराई तो इन लोगों के पास से एक देसी तमंचा 12 बोर वह एक जिंदा कारतूस बरामद हुआ. जिस पर लक्सर कोतवाली पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बाइक सवार तीन युवकों को कोतवाली लाकर जब शक्ति से पूछताछ की तो उन्होंने क्षेत्र में हो रही चोरियों के बारे में अपना जुर्म कबूल कर बताया कि अब तक जितनी भी चोरी हुई है, उनके गिरोह द्वारा की गई वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने पत्रकारों को बताया कि इन लोगों का अपराध करने का तरीका भी अलग था.

वीडियो के जरिए देखे सियासत पर भारी थप्पड़

अभियुक्त द्वारा दिल्ली, उत्तर प्रदेश, उत्तराखंड आदि राज्यों में भीड़ भाड़ वाले स्थानों में लॉक कमजोर होने के कारण अधिकांश हीरो कंपनी की मोटर साइकल को चोरी किया करते थे और उन्हें उसी रंग मेक मॉडल स्थानीय मोटरसाइकिल के किसी के नंबर की फर्जी नंबर प्लेट लगाकर फर्जी आरसी तैयार कर बेच देते थे. गाड़ी बेचते हुए यह लोग ग्राहक को पूरा विश्वास भी लेते थे, जिस पर इन लोगों के ऊपर किसी को शक भी नहीं होता था. वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक में बताया के अभियुक्त दुष्यंत पुत्र साधुराम निवासी ग्राम पंडित पुरी लक्सर मोटरसाइकिल चोरी करके लाता था. आजम पुत्र अनवर निवासी सुल्तानपुर हाल निवासी आजम ओटो सर्विस कुनहारी मोटरसाइकिलो का मैकेनिक है और उन मोटरसाइकिल को मॉडिफाइड करता था. लोकेंद्र पुत्र जगपाल निवासी महाराजपुर का कार्य चोरी हुई मोटरसाइकिल को ग्राहकों को तलाश कर भेजता था.

सुनील पुत्र करण पाल निवासी पंडित पुरी लक्सर मोटरसाइकिल चोरी करके लाता था. इसके साथ अवतार पुत्र राजेंद्र निवासी रायपुर रायगडी मोटरसाइकिल चोरी करके लाता था और उसका साथ देता था अरशद पुत्र अव्वल निवासी कुड़ी नियत वाला चोरी की मोटरसाइकिल के लिए ग्राहक की तलाश करता था और उन्हें बेचने में गिरोह की मदद करता था. पुलिस अधीक्षक ने बताया कि इन लोगों के पास से बरामद मोटरसाइकिल में मोटरसाइकिल स्पलेंडर प्लस, यमुनानगर स्प्लेंडर, पानीपत स्प्लेंडर, दिल्ली स्प्लेंडर, सहारनपुर स्प्लेंडर, अपैक्स डीलक्स, रंग काली बिजनौर स्प्लेंडर ,हरिद्वार स्प्लेंडर, बरामद हुई वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक ने लक्सर पुलिस को मिली इस कामयाबी पर पीठ थपथपाई और कहा कि अगर पुलिस इसी तरह अपराधियों के पीछे लगी रही तो वह दिन दूर नहीं जब अपराध करने वाला सौ बार अपराध करने के बारे में सोचेगा.चोरी का खुलासा करने वाली टीम में लक्सर कोतवाली प्रभारी निरीक्षक त्रिवेंद्र सिंह राणा वरिष्ठ उप निरीक्षक राकेश कुमार रायसी चौकी प्रभारी ओम कांत भूषण विक्रमपुर चौकी प्रभारी आशुतोष चौहान चौहान उप निरीक्षक संजय रावत शहजाद अली कांस्टेबल नरेश चंद सन जयपाल सुदेश मानसिंह अनूप यशपाल संजय मदन तोमर ने इस पूरी खुलासा का अंजाम दिया.

 

अन्य बड़ी खबरें

 

मसूरी में फिल्म के माध्यम से छात्रों और महिलाओं को किया जागरूक

उत्तरी दिल्ली नगर निगम के प्रधानाचार्यों की बैठक का आयोजन

सितारगंज में एसएसपी ने किया सलाना औचक निरीक्षण

139 करोड़ के श्रम घोटाले की हो सीबीआई जांच- तिलकराज कटारिया

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here