मसूरी: अवैध निर्माण पर कारवाई

मसूरी में अवैध निर्माण पर मसूरी देहरादून विकास प्रधिकरण के द्वारा एक बार फिर बडी कारवाई करते हुए मसूरी के हरनाम मार्ग पर बहुमंजिला मकान को सील कर दिया गया है. वहीं कई अवैध निर्माणों को चिंहित कर जल्द कारवाई करने की योजना बनाई जा रही है. एमडीडीए के द्वारा अवैध निर्माण पर हो रही कारवाई पर पूर्व पालिकाअध्यक्ष ओपी उनियाल ने सवाल उठाते हुए कहा कि विभाग द्वारा छोटे और गरीब लोगों के अपने गुजर बसर के लिये किये जा रहे निर्माण को अवैध बताकर कारवाई की जा रही है. मसूरी में उद्योगपतियों के द्वारा किये जा रहे भव्य निर्माणों की ओर देखा भी नहीं जा रहा है. जिससे मसूरी के लोगों में एमडीडीए के खिलाफ आक्रोश निकल रहा है. उन्होंने कहा कि एमडीडीए का गठन मसूरी के साथ देहरादून के विकास के लिए किया गया था.

लेकिन विभाग द्वारा मसूरी में आज तक एक भी अवासीय योजना नहीं लाई गई. भ्रष्टाचार को अंजाम देकर पहाडों कि रानी मसूरी को कंकरीट के जंगल बनाने में अपनी अहम भूमिका निभाई गई. उन्होंने बताया कि विभाग के द्वारा कुछ निर्माण को स्वीकृति दी गई है. जिसमें से जयादातर बड़े उद्योगपति के है. लेकिन गरीब लोगों को विभाग के चक्कर काटने पड़ रहे है. उन्होंने सरकार से मसूरी में गरीब लोगों के लिये अवासीय योजना बनाने के लिये आग्रह किया वहीं एमडीडीए के भ्रष्ट अधिकारियों के खिलाफ सख्त कारवाई करने की मांग की है.

एमडीडीए के सहायक अभिंयता एस.एस.रावत ने बताया कि विभाग द्वारा मसूरी में हो रहे अवैध निर्माण पर लगातार कारवाई की जा रही है. सोमवार को मसूरी के हरनाम मार्ग पर पिछले कई महिनों से हो रहे अवैध निर्माण पर कारवाई कर सील कर दिया गया है. उन्होंने बताया कि विभाग द्वारा लगातार अवैध निर्माण करने वाले को नोटिस देकर निर्माण रोकने के निर्देष दिये गए थे,लेकिन उसके बाद भी निर्माण को नहीं रोका गया. निर्माणकर्ता द्वारा बताया गया कि उसके द्वारा सील किये गए निर्माण पास करवा कर निर्माण करने कि अनुमति ली गई थी. लेकिन उसके द्वारा उनके समुख कभी स्वीकृत दिखाया ही नहीं गया जिसके उपरांत एसडीएम मसूरी मीनाक्षी पटवाल द्वारा मामले की सुनवाई करते हुए निर्माणधिन भवन को सील करने के निर्देश दिये गए. जिसके बाद कारवाई करें अमल पर लाकर उक्त भवन को सील किया गया उन्होंने बताया कि मसूरी में किसी भी प्रकार के अवैध निर्माण बर्दाशत नहीं किए जाऐंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here