अल्मोड़ा में जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण का गठन

शासन ने जनपद स्तर पर जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण का गठन किया है. इस प्राधिकरण के अध्यक्ष आयुक्त कुमांऊ मण्डल, उपाध्यक्ष डीएम एवं सचिव एडीएम होंगे. प्राधिकरण की पहली बैठक में डीएम ईवा आशीष ने कहा कि नगर में बढ़ रहे वाहनों की संख्या से निरन्तर यातायात व्यवस्था बाधित हो रही है. इसके लिए हमें आम लोगों की सुविधा हेतु रोप-वे की प्राथमिकता देनी होगी. अल्मोड़ा शहर से विकास भवन स्थित निर्माणाधीन कलैक्ट्रेट जोड़ने के लिये एक रोप-वे का प्रस्ताव बनाया जायेगा. जिससे आने-जाने के समय में बचत सहित पर्यटन गतिविधियों में भी सहायता मिलेगी.

almora

जिलाधिकारी ने कहा कि इसके लिये रोप-वे व टनल निर्माण एजेन्सी ब्रिडकूल से सम्पर्क स्थापित किया जायेगा. उन्होंने कहा कि आन्तरिक मार्गों को जोड़ने के लिये शहर अन्तर्गत सुरंग बनाये जाने की कार्य योजना में विचार किया जायेगा. जिलाधिकारी ने कहा कि नवगठित प्राधिकरण का कार्यालय कलैक्ट्रेट परिसर में जहां पर पूर्व में मनोरंजन कार्यालय में स्थापित था वहां पर बनाया जायेगा. उन्होंने बताया कि इस प्राधिकरण के अन्तर्गत समस्त नगर निकाय सहित राष्ट्रीय राजमार्ग एवं राज्य मार्ग की 200 मीटर की परीधि में आने वाले समस्त ग्राम इसके कार्य क्षेत्र में आएंगे. समस्त नगर निकाय इसके क्षेत्रीय कार्यालय होंगे.

जिलाधिकारी ने बताया कि कार्मिको की तैनाती के लिये जनपद में अभियंत्रण सेवाओं के विभागों में तैनात अवर अभियन्ताओं/सहायक अभियन्ताओं सहित अधिशासी अभियन्ताओं का प्रतिनियुक्ति पर प्राधिकरण के कार्य सम्पादित किये जायेंगे और साथ ही तात्कालिक आवश्यकता अनुसार उपनल/पीआरडी से माध्यम से कार्मिक तैनात किये जाएंगे. जिलाधिकारी ने कहा कि जिला स्तरीय विकास प्राधिकरण को यह सुनिश्चित भी करना है कि विकास क्षेत्र में मास्टर प्लान के तहत निर्माण कार्य किये जा रहे है या नहीं. अवैध निर्माण की रोकथाम के लिये उन्होंने अपर जिलाधिकारी को कारवाई करने के निर्देश भी दिये. इस बैठक में अपर जिलाधिकारी/सचिव विकास प्राधिकरण केएस टोलिया, डिप्टी कलैक्ट्रर रजा अब्बास, ईओ नगर पालिका श्याम सुन्दर,ईओ नगर पंचायत भिकियासैण प्रदीप कुमार ओझा, नगर पालिका अमीन बसंत बल्लभ पाण्डे, प्रशासनिक अधिकारी खीमानन्द जोशी आदि अन्य लोग उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here