मसूरी: जिलाधिकारी ने किया रिस्पना नदी का निरीक्षण

उत्तराखण्ड सरकार द्वारा रिस्पना नदी को निर्मल और स्वच्छ बनाये जाने को लेकर लगातार ठोस कदम उठाये जा रहे है. जिसको लेकर देहरादून जिलाधिकारी एस.ए. मुरूग्रेशन द्वारा रिस्पना नदी के सोत्र द्वारा मसूरी क्षेत्र का करीब नौ विभागों के अधिकारियों के साथ स्थालीय निरिक्षण किया गया. वहीं जिलाधिकारी द्वारा मसूरी बार्लोगंज मौसी फाल से पैदल नदी रिस्पना नदी के किनारे किनारे मक्रडेत गांव तक अधिकारियों के साथ पैदल जाकर नदी को स्वच्छ और सुजल बनाने के लिये सभी संभावनाओं को तलाश की गई हैं.

जिलाधिकारी ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया कि राज्य सरकार रिस्पना नदी को साफ और सुजल बनाने के लिये काफी गंभीर है जिसको लेकर सरकार द्वारा एक हफ्ते में रिस्पना नदी के पुनः जीवित करने के लिये योजना तैयार करने के निर्देश दिये गए हैं. जिसको लेकर उनके द्वारा पूर्व में शिखर फाल और रिस्पना व विंदाल नदी के संगम का संबधित अधिकारियों के साथ स्थलीय निरिक्षण किया. सभी अधिकारियों को सुक्ष्म परियोजना तैयार करने के निर्देश दिये गए हैं. उन्होने बताया कि उनके द्वारा रिस्पना नदी के सोत्र का जो मसूरी में है उसका निरिक्षण नही किया गया था. जिसके लिये गुरूवार को वह डीएफओ, इको टास्क फोर्स, नगर पालिका परिषद, मसूरी छावनी परिषद, सिंचाई विभाग के साथ अन्य विभाग के अधिकारियों के साथ निरिक्षण के लिये आये हैं.

उन्होंने बताया कि नदी को पुनः जीवित करने के लिये स्थानीय लोगों के साथ लोगो में जागरूकता लाने की आवययक्ता है. वहीं नदी के आसपास वृशारोपण, जल संरक्षण करने की आवश्यकता हैं. वही नदी में अप्रत्यश रूप से ढाले जा रहे. सिवरेज की भी जांच कर उसके नदी से ना मिलने के लिये ठोस योजना बनाने की जरूरत है. जिसके लिये लगातार प्रयास किये जा रहे है. उन्होंने कहा की जल्द एक ठोस और सुक्ष्म परियोजना तैयार कर सरकार को सौंपी जायेगी. जिससे उनके द्वारा अनुमति और बजट पास होने के बाद रिस्पना नदी को साफ, सुंदर और सुजल बनाने के कार्य को प्ररांम्भ किया जा सके.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here