मसूरी में नशे के खिलाफ पुलिस की बड़ी कार्रवाई

मसूरी पुलिस ने नशे के खिलाफ कार्रवाई की. बीते रविवार को देर शाम मसूरी के इतिहासिक पर्यटन स्थल जार्ज एवरेस्ट पर सदन चैकिंग अभियान चलाया. जहां पर कई लोगों को शराब के नशे में पाये जाने में चालान किया गया, तो वहीं कई लोगों को महज चेतावनी देकर छोड़ दिया गया. मसूरी पुलिस की टीम मसूरी कोतवाल भावना केन्योला के नेतृत्व में जार्ज एवरेस्ट पहुंची तो वहां पर लोगों द्वारा खुल्लेआम नियमों की अनदेखी कर लोगों द्वारा शराब पिये जाने वाले दृश्य को देकर हैरान हो गई. उन्होंने सभी शराब में धुत पाए गए लोगों पर सख्त कार्रवाई करते हुए उनके चालान किए.

वहीं पुलिस की कार्रवाई से क्षेत्र और लोगों में खासकर अपने स्कूलों और घरों से बिना बताये आए हुए युवक युवतियों में हंडकंप मच गया और वहीं अपने आप को बचाने के लिए लगाातर मसूरी कोतवाल से माफी मांगने का प्रयास करते रहे. लेकिन कोतवाल ने उनकी एक नहीं सुनी और कहा की तुम लोग ही देश का भविष्य हो और अगर अभी तुम लोगों को छोडा गया तो वह सुधरने वाले नहीं है. मसूरी कोतवाल द्वारा युवक युवतियों के अभिवाकों और स्कूल के प्रधानाचार्य के फोन नम्बर भी लिए गए जिससे उनको फोन कर उनके बच्चों के द्वारा किए जा रहे कर्मों को बताया.

पत्रकारों से वार्ता करते हुए मसूरी कोतवाल भावना केन्थोला ने कहा की पिछले कई दिनों से मसूरी पुलिस को जार्ज एवरेस्ट हाउस के आसपास लोगों द्वारा खुले में शराब पीकर और देहरादून के आसपास के क्षेत्र के युवक युवतियों द्वारा हो हल्ला के साथ असमाजिक कृत करने की शिकायत मिल रही थी. जिस पर एक्शन लेते हुए वह पुलिस फोर्स के साथ जार्ज एवरेस्ट पहुंची जहां उन्होंने की कई शिकायत को सही पाया. उन्होंने कहा की शराब के नशे में पाए गए लोगों के एल्कोमीटर से जांच की गई जिसमें जयादातर लोगों द्वारा शराब का सेवन पाया गया. जिस पर उनके चालान किए गए और कई को चेतावनी देकर छोड़ दिया गया. उन्होंने बताया की जार्ज एवरेस्ट से युवक युवतियां शराब पिकर अपने वहानो से अपने गणतव्य तक जाया जाता है. जिसमें कई बार उनके वहान दुर्घटनाग्रस्त हो गए और कई लोग अपनी जान से हाथ धो बैठे है. ऐसे में नशे के खिलाफ लगातार पुलिस द्वारा समय-सयम पर सख्त कदम उठाये गए है और आगे भी कार्रवाई चलती रहेगी.

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here