भारत तिब्बत सीमा पुलिस में शामिल हुए 28 अधिकारी

भारत की सीमाओं पर ड्रैगन (चीन) को टक्कर देने के लिए हिम् वीर को तैयार किया गया है. शनिवार को मसूरी भारत तिब्बत सीमा पुलिस अकादमी परेड ग्राउंड में भव्य परेड एवं शपथ ग्रहण के पश्चात 28 अधिकारी 48 सप्ताह के कठिन प्रशिक्षण के बाद बल की मुख्य धारा हिमवीरों में शामिल हुए. आईटीबी अकादमी परेड ग्राउंड में भव्य व रंगारंग दीक्षांत एवं शपथ ग्रहण समारोह आयोजित किया गया. मुख्य अतिथि आर के पचनंदा, डी जी मसूरी भारत तिब्बत सीमा पुलिस द्वारा परेड कर निरीक्षण किया व शपथ ग्रहण के बाद आयोजित परेड की सलामी ली. इसके बाद बल के अधिकारियों एवं परिजनों ने अधीनस्त अधिकारियों के कंधों पर सितारे सजाये. वही इस मौके पर बल के ब्रास बैंड एवं पाइप बैंड ने मनमोहक प्रस्तुति दी जिसने सभी के मन को मोह लिया. वही नवनियुक्त अधिकारी अलोक भाटी को ओवरआल बेस्ट के लिये सोर्ड ऑफ आनर से सम्मानित किया गया.

ITBP

इस मौके पर आर के पचनंदा ने कहा कि आईटीबीपी देश के अर्धसैनिक बलों में अग्रणी है तथा इसी कारण जिम्मेदारी बढ़ गई है. उन्होंने कहा भारत की चीन से लगी 3488 किलोमीटर लम्बी सीमाओं की सुरक्षा में भारत तिब्बत सीमा पुलिस की महिलाए भी कमाण्ड करेंगी. बल की साकारात्मक सोच के परिणाम स्वरूप, हर रैंक पर महिलाओं को भर्ती कर देश सेवा और सुरक्षा के लिये तैयार किया जा रहा हैं. इसी श्रृंखला में देश के विभिन्न प्रांतो से चुनकर भर्ती किये गए 28 अधिकारी शामिल है. उन्होंने कहा कि अकादमी जहां विभिन्न सैन्य बलों को विभिन्न प्रशिक्षण दे रही है वहीं वीआईपी सुरक्षा से लेकर देश व विदेश में अपने दायित्व को निभा रही है. उन्होंने अपेक्षा की कि नव सैन्य अधिकारी बल की गरिमा को बनाये रखेंगे व चुनौतियों का सामना धैर्य एवं कुशलता से कर बल का नाम देश और विदेश में रौशन करेंगे।

पास आउट होने वाले प्रशिक्षाणार्थी अधिकारियों में बिहार- 2, हरियाणा से 3, राजस्थान से 2, उत्तर प्रदेश से 10, मध्यप्रदेश से 1, उत्तराखण्ड से 2, महाराष्ट्र से 2, पंजाब से 2, आंध्राप्रदेश से 2, हिमाचल प्रदेश से 1 और तमिलनाडू से 1. नवनियुक्त अधिकारी अलोक भाटी ने बताया कि वह देश कि सेवा के लिए पूर्ण रूप् से तैयार हो चुके है. वही 50 हफ्तों के कठिन प्ररिक्षण में उनके आत्मा विश्नास के साथ मजबूत बनाया गया है. उन्होंने कहा की वह दुश्मन दांतों को खट्टे करने के लिए पूरी तरह से तैयार है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here