राधा ने किया मसूरी का नाम रौशन

मसूरी शहर की 12 कक्षा की छात्र की राधा ने मसूरी शहर का नाम पूरे देश में रोशन करने का काम किया सिमित संस्साधनो और गरीबी की मार के बाद भी राधा ने अपने हौसले और मेहनत से खेल महाकुंभ ऐथलीट मीट 800 मीटर दौड़ में प्रथम स्थान हासिल कर स्कूटी व 51 हजार जीतने का काम किया. वहीं पूर्व में 63वें नेशनल स्कूल गेम्स एथलेटिक्स प्रतियोगिता रोहतक में तीसरा स्थान हासिल किया.

राधा की माने तो उनके गुरू और कोच सैम्यूल चंद्रा की कडी मेहनत के कारण की आज वह एथलेटिक्स में अच्छा प्रर्दशन कर रही है और अब उनकी इच्छा है कि वह अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग करें. वहीं राधा ने कहा कि प्रदेश सरकार के द्वारा खिलाडियों को प्रोत्साहन के लिये बहुत कम धनराशि दी जाती है. जबकि हिमाचल जैसे अन्य राज्यों को खिलाडियों की प्रतिभा को निखारने के साथ उनको आर्थिक रूप् से मजबूत करने के लिये एक अच्छा खासा पैकेज दिया जाता है. राधा ने मांग की कि प्रदेश सरकार उनकी मदद करे, जिससे वह अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग कर सके.

बता दें कि राधा के द्वारा खेल महाकुंभ ऐथलीट मीट 800 मीटर दौड़ में प्रथम स्थान हासिल करने पर मसूरी खेल सास्कृतिक संस्था द्वारा को नगर पालिका परिषद के सभागार में सम्मानित किया गया. वहीं इस मौके पर राधा कि सफलता के पिछे उनके कोच सैम्यूल चंद्रा और इंदू उनियाल के द्वारा की गई मेहनत की भी प्रशंसा की गई. इस मौके पर मौजूद राधा के कोच सैम्यूल चंद्रा ने कहा कि मसूरी में खिलाडियों के हुनर को तराशने को लेकर कोई संस्साधन नहीं हैं. उन्होंने बताया कि राधा को दो वर्ष के लिए ओएनजीसी ने अंगीकृत किया है तथा दौड़ का प्रशिक्षण दे रही व राधा द्वारा दिन रात मेहनत कर लगातार सफलता को हासिल कर रही हैं. उन्होंने कहा कि उनका सपना है कि राधा अंतराष्ट्रीय स्तर पर प्रतिभाग कर अपने प्रदेश के साथ देश का नाम रोशन करें.

और देखें-

भविष्य से खिलवाड़ करने पर, तहसीलदार को सौंपा ज्ञापन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here