हिमाचल: सीएम के नाम पर सस्पेंस, हो रही नारेबाजी, 3 धड़ों में बंटी बीजेपी

हिमाचल प्रदेश में पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में बीजेपी सरकार अब सीएम के नाम पर विचार करने में लगी हुई है. इसके लिए केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण और नरेंद्र तोमर को पर्यवेक्षक के तौर पर भेजा हुआ है. लेकिन गुरुवार को हुए इसकी बैठक में कोई परिणाम नहीं निकल पाया है. इस दौरान प्रेम कुमार धूमल और जयराम ठाकुर के समर्थकों के बीच जमकर नारेबाजी का सिलसिला चला. ऐसे में शुक्रवार को एक बार फिर से केंद्रीय पर्यवेक्षकों की एक बार फिर से सांसदों के बीच बैठक होने वाली है.

no decision on himachal pradesh cm name bjp party observers to meet mps mlas no decision, himachal pradesh cm, name bjp party, observers to meet, mps mlas, निर्मला सीतारमण, नरेंद्र तोमर, जेपी नड्डा, प्रेम कुमार धूमल
himachal cm

सूत्रों के हवाले से खबर है कि प्रेम कुमार धूमल, जयराम ठाकुर, सुरेश भारद्वाज, पार्टी अध्यक्ष सतपाल सत्ती और नाहन से विधायक डॉ. राजीव विंदल से केंद्रीय पर्यवेक्षकों ने अकेले में बातचीत की है. जिसके बाद एक साथ सभी सांसदों के बीच में बैठक की गई है. लेकिन इस सब के बीच खबर यह है कि धूमल के बेटे और पार्टी सांसद अनुराग ठाकुर बैठक में शामिल नहीं हुए हैं. वही शुक्रवार को भी केंद्रीय पर्यवेक्षक निर्मला सीतारमण और नरेंद्र तोमर ने जब सांसदों के साथ बैठक की तो गुरुवार की तरह शुक्रवार को भी उनके समर्थकों द्वारा नारेबाजी की गई है.

बैठक के दौरान धूमल और जयराम के समर्थक आपस में शक्ति प्रदर्शन करने लग गए. दोनों ने अपनी अपनी ताकत दिखाई. इसलिए मना जा रहा है कि प्रेम कुमार धूमल की तरफ से मैदान नहीं छोड़ा जा रहा है. हालांकि धूमल की तरफ से कहा गया था कि अभी तक उन्होंने मुख्यमंत्री पद के लिए दौड़ नहीं लगाई है. ऐसे में बीजेपी प्रदेश के मुख्यमंत्री के तौर पर तीन धड़ों में बंटी हुई है. पहला केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जगत प्रकाश नड्डा दूसरा पूर्व मुख्यमंत्री प्रेम कुमार धूमल और तीसरा जयराम ठाकुर खेमा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here