‘ओखी’ तूफान ने माचाई भारी तबाही

शुक्रवार को आए चक्रवाती तूफान ‘ओखी’ ने केरल समेत कई तटीय इलाकों को बुरी तरह से प्रभावित किया है. ऐसा माना जा रहा है कि शनिवार तक यह तूफान लक्षदीप से टकरा जायेगा. मिली जानकारी के अनुसार तमिलनाडु में अब तक 5 लोगों की मौत हो चुकी है और करीबन 62 मछुआरे लापता है. इसके अलावा 240 से ज्यादा कर ऐसे हैं जिन्हें हलका नुकसान पहुंचा है तो वही 62 मकान ऐसे हैं जो पूरी तरीके से क्षतिग्रस्त हो चुके हैं.

सरकार ने करीब 16 एप्लीकेशन सेंटर बनाए हैं जिनमें एक हजार से ज्यादा लोगों के रहने की क्षमता है. केरल में भी चार लोगों की मौत और कई मछुआरे की फंसे होने की खबर है. शुक्रवार को ही नेवी और कोस्ट गार्ड के जवानों ने 59 मछुआरों को रेस्क्यू किया था. तूफान की वजह से कई जगहों पर पेड़ जड़ से उखड़ गए हैं. ‘ओखी’ तूफान आने के बाद इस पर राजनीति भी शुरू हो गई है. केरल के मुख्यमंत्री का कहना है कि उन्हें तूफान की कोई पूर्व सूचना नहीं दी गई और यह डिपार्टमेंट की गंभीर लापरवाही है. वहीं केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह पूरे मामले पर नजर बनाए हुए हैं. मौके पर एनडीआरएफ की टीमें रवाना कर दी गई है. ऐसा माना जा रहा है कि 2 दिसंबर तक लक्ष्यदीप के कई द्वीपों से टकरा सकता है. ‘ओखी’ तूफान के चक्कर में कांग्रेस के उपाध्यक्ष राहुल गांधी का दौरा भी रद्द हो चुका है. पहले राहुल गांधी को 1 और 2 दिसंबर को केरल के दौरे पर आना था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here