भभुआ सीट को लेकर आमने-सामने आए कांग्रेस और आरजेडी, क्यों नहीं छोड़ना चाहती है कांग्रेसी है सीट ?

बिहार उपचुनाव लगभग आने ही वाले हैं. ऐसे में महागठबंधन की पार्टियों के बीच खींचतान का दौर जारी है. भभुआ में होने वाले चुनाव को लेकर कांग्रेस और आरजेडी आमने-सामने आ गए हैं. इस बात का ऐलान आरजेडी की तरफ से पहले ही हो चुका है कि वह बिहार की तीनों सीटों पर होने वाले उपचुनाव में अपने उम्मीदवार खड़ा करेगी लेकिन कांग्रेस को भभुआ सीट से काफी दिक्कत है, वह चाहती है कि भभुआ सीट से वह अपने उम्मीदवार को खड़ा करें.

bjp attack on forign tour of rahul gandhi copy pm modi bjp attack, foreign tour, rahul gandhi, copy pm modi, congress. bjp, congress president
Rahul Gandhi

बिहार में अररिया लोकसभा और जहानाबाद विधानसभा को लेकर कांग्रेस की तरफ से कोई विरोध नहीं है. साल 2015 में यह सीट जनता दल यूनाइटेड लेकिन अब जनता दल यूनाइटेड महागठबंधन का हिस्सा नहीं है. जिसके बाद अब कांग्रेस इस पर अपना दावा ठोक रही है. कांग्रेस वरिष्ठ नेता सदानंद सिंह का इस बाद में कहना है कि पिछले चुनाव में भभुआ सीट पर ना तो आरजेडी खड़ी थी और ना ही कांग्रेस लेकिन अब परिस्थितियों को देखते हुए वहां की सीट कांग्रेस के खाते में जानी चाहिए. ऐसा इसलिए है क्योंकि यहां से 7 बार कांग्रेस जीती है, जबकि आरजेडी का जीत का खाता मात्र 2 है.

माना जा रहा है कि कांग्रेस इस सीट को इसलिए नहीं छोड़ना चाहती है, क्योंकि अगर वह इस बार इस सीट को छोड़ देती है तो इसका खामियाजा आगामी चुनाव में पड़ सकता है. इसलिए अभी से ही कांग्रेस इस सीट को पाने के लिए जुटी हुई है लेकिन दूसरी तरफ आरजेडी बिहार की तीनों सीटों पर अपने उम्मीदवार को खड़ा करना चाहती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here