बिहार में सेना भर्ती में अग्निपथ योजना का विरोध लगातार तीसरे दिन शुकवार को भी जारी है। सुबह पांच बजे ही बड़ी संख्या में प्रदर्शनकारी विभिन्न रेलवे स्टेशनों पर पहुंच गए और जमकर प्रदर्शन कर रहे हैं। इस क्रम में उनके निशाने पर ट्रेन और रेलवे स्टेशन हैं। समस्तीपुर में प्रदर्शनकारियों ने जम्मूतवी-गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन में आग लगा दी। अग्निपथ योजना के तहत सेना भर्ती का विरोध करते प्रदर्शन कर रहे युवा शुक्रवार को सुबह-सुबह हावड़ा दिल्ली लाइन पर डुमरांव स्टेशन के पास ट्रेनों को रोक दिया।

समस्तीपुर में जम्मूतवी गुवाहाटी एक्सप्रेस ट्रेन में उपद्रवियों ने आग लगा दी। ट्रेन की दो बोगी जलकर खाक हो गई। लखीसराय में भी प्रदर्शनकारी सुबह से हाथ में डंडे लिए स्टेशन पहुंच गए और जमकर तोडफोड की। इस क्रम में एक ट्रेन में भी आग लगा दी। प्रदर्शनकारियों के धरना और प्रदर्शन के कारण रेल परिचालन में असर पड़ा है।

बक्सर में शुक्रवार को तीसरे दिन प्रदर्शनकारी रेल पटरियों को अपना निशाना बनाया। डुमरांव स्टेशन पर रेलवे पटरी पर प्रदर्शनकारी पांच बजे ही पहुंच गए और उसे जाम कर दिया। प्रदर्शन कर रहे छात्रों को रेल और जिला प्रशासन समझाने में जुटी है।

इससे पहले बुधवार और गुरुवार को राज्य के अधिकांश जिलों में अग्निपथ योजना का विरोध हुआ था। छात्र सेना में चार साल की भर्ती वाली इस योजना से नाराज हैं। छात्रों का कहना है कि चार साल की नौकरी के बाद 25 प्रतिशत छात्रों को तो नौकरी मिल जाएगी लेकिन 75 फीसदी लोग बेरोजगार हो जायेंगे।

कई राज्यों ने पुलिस भर्ती में अग्निवीरों को प्राथमिकता देने की घोषणा की है। कई विभागों ने भी इन लोगों की प्राथमिकता देने की घोषणा की है।

इस बीच, केंद्र सरकार ने अग्निपथ योजना के लिए ऊपरी आयु सीमा को 21 साल से बढ़ाकर 23 साल करने का फैसला किया है।

Leave a comment

Your email address will not be published.