ट्रैफिक पुलिसकर्मियों पर होगी अब क्राइम ब्रांच की नजर

गुरुग्राम: धांधली करने वाले ट्रैफिक पुलिसवालों पर अब क्राइम ब्रांच ने अपनी नजर तेज कर दी है। ट्रैफिक चालानों में हो रहे गोरखधंधों की शिकायत जैसे ही क्राइम ब्रांच को मिलेगी, त्तकाल ही इस पर कार्रवाई शुरु की जाएगी। इस मामले में पुलिस उपायुक्त संदीप खिरवार ने निर्देश भी जारी कर दिऐ हैं। बीते शनिवार को ही ट्रैफिक पुलिस में तैनात एएसआइ रतनपाल को ट्रैफिक चालान में धांधली करने के जुर्म में गिरफ्तार किया गया है। एएसआई रतनपाल पर यह आरोप सेक्टर 10 के निवासी राजेश कुमार ने लगाया है।

traffic police

राजेश का कहना है की रतनपाल ने उनसे 300 रुपये लिए और चालान बुक में सिर्फ 100 रुपये ही दर्ज किए। किसी को इस बात का पता ना चले इसलिए रतनपाल ने रजेश को चालान की पर्ची नहीं दी। राजेश ने जब रतनपाल से जब पर्ची मांगी तो रतनपाल ने उसे उसकी गाड़ी जब्त करने की धमकी दी गई। इसकी शिकायत राजेश ने पुलिस आयुक्त से कर दी। राजेश द्वारा की गई शिकायत की जांच जिम्मा क्राइम ब्रांच को सौंपा गया।

क्राइम ब्रांच ने जब इस पूरे मामले की जांच की तो पाया की एएसआई ने वाहन चालक राजेश से 300 रुपये लिए और चालान बुक में कुल 100 रुपये ही अंकित किए और बाकी के बचे 200 रुपये उसने अपनी जेब में रख लिए क्राइम ब्रांच द्वार पूरे मामले की जांच के बाद एएसआई रतनपाल को गिरफ्तार कर लिया गया है। एसीपी रणवीर सिंह के नेतृत्व में क्राइम ब्रांच की टीम चलते-फिरते मतलब की औचक रुप से चालान बुकों की जांच करेगी और छुपकर भी क्राइम ब्रांच के कुछ लोग यह पता लगाने की कोशिश करेंगे की कहां-कहां चालान के नाम काला धंधा किया जा रहा है। जिन जगहों पर ट्रैफिक पुलिस चालान काटती है वहां पर क्राइम ब्रांच के अधिकारी अपनी नजर रखेंगे और पता करेंगे की कहां पर क्या-क्या गड़बड़ी की जा रही है साथ ही लोगों से यह भी कहा गया है की जहां भी इस प्रकार की गड़बड़ी होती दिखे तो तुरंत इसकी शिकायत दर्ज करें।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here