नजरबंदी से रिहा हुआ आतंकी हाफिज सईद, इसका अंजाम भुगतना पड़ेगा- अमेरिका

26/11 मुंबई अटैक के मास्टरमाइंड और विश्व के खूंखार आतंकियों में से एक हाफिज सईद को शनिवार को पाकिस्तान ने रिहा कर दिया गया है। पाकिस्तान की एक अदालत ने हाफिज सईद की नजरबंदी पर सुनवाई की है और कहा कि हाफिज सईद को सबूतों के बिनाह पर रिहा किया गया है। इस फैसले से विश्व के सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का पारा चढ़ गया है। जैसे ही यह खबर राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लगी तो उनका गुस्सा सांतवे आसमान पर चला गया।

Hafiz Saeed,released detention,president donald trump,warning to pakistan

गुस्साएं अमेरिकी राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को इस रिहाई के परिणाम भुगतने की चेतावनी तक दे दी। राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा है अगर पाकिस्तान ने हाफिज सईद पर जल्द से जल्द कोई सख्त कार्रवाई नहीं की तो इसका असर पाक और अमेरिका के रिश्ते पर देखने को मिलेगा। हाफिज सईद की रिहाई के बाद व्हाइट हाउस की तरफ से एक बयान जारी हुआ है। बयान में हाफिज सईद की रिहाई को लेकर कई अहम बातें की गई हैं। व्हाइट हाउस की तरफ से जारी बयान में यह स्पष्ट रूप से लिखा था कि इस रिहाई के बाद पाकिस्तान की छवि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर और फीकी पड़ जाएगी।

इस रिहाई के बाद पाकिस्तान को आतंकवाद से लड़ने में काफी मुश्किलों का सामना करना पड़ेगा। आपको बता दें पाकिस्तान ने इससे पहले अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कहा था कि वह अपनी जमीन पर आतंकवाद नहीं पनपने देगा। लेकिन अब ऐसा लगता है कि इस रिहाई के बाद से पाकिस्तान का झूठ फिर एक बार बेनकाब हो गया है। हाफिज सईद उन प्रमुख आतंकवादियों में से एक है जिस पर अमेरिका ने करोड़ों डॉलर का इनाम घोषित कर रखा है। मगर इसके बावजूद भी लाहौर उच्च न्यायालय ने आतंकवादी हाफिज सईद को नजरबंदी से रिहा कर दिया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here