म्यामांर में जलाए गए रोहिंग्या मुस्लमानों के 40 गांव

अममेरिका के सबसे बड़े मानवअधिकार संगठन ह्यूमन राइट्स वॉच (एचआरडब्लयू) ने बताया हैं, कि अक्टूबर से नवंबर महीने के बीच में मयामार में सैन्य अभियान में रोहिंग्या मुसलमानों के 40 गांवों को जला दिया गया है. सेना द्वारा यह सैन्य अभियान 25 अगस्त से शुरू किया गया था. मुस्लिम अल्पसंख्यक समुदाय के करीबन 6 लाख 55 हजार लोगों को अपने घरों को छोड़ कर बांग्लादेश प्रस्थान करने पर मजबूर होना पड़ा था.

प्राप्त तस्वीरों के द्वारा एचआरडब्लयू ने नवनीतम सभी घटनाओं की जांच की. एचआरडब्लयू द्वारा की गई जांच में पता चला कि अक्टूबर और नवंबर के बीच पूर्ण और आंशिक तौर पर 354 गांवों को जलाया गया हैं. एचआरडब्लयू में एक बयान में कहा कि कुछ मामले उसी समय आए, जिस वक्त बांग्लादेश और म्यांमार की सरकारों ने हजारों की संख्या में निर्वासित शरणार्थियों की वापसी के लिए 23 नवंबर को एक ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here