गोंडा: प्रशासन की लापरवाही से कटा लोगों का नाम, मचा हंगामा

नगर निकाय चुनावों में मतदान के दौरान गोण्डा के मलेरिया विभाग के सामने नाराज मतदाता हंगामा मचाने लगे। जानकारी है कि हंगामा मचा रहे लोगों का नाम वोटर लिस्ट में नही था लोगों का कहना था कि वह लगातार हर चुनाव में मतदान करते थे, लेकिन इस बार प्रशासन की लापरवाही व क्षेत्र में कार्यरत बीएलओ के कारण लगभग 600 लोगों का नाम वोटर लिस्ट से कट गया। इससे नाराज मतदाताओं का क्षेत्रीय बीएलओ व प्रशासन के खिलाफ गुस्सा फूटा और मतदाताओं ने जिला प्रशासन व बीएलओ के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

गोंडा के मलेरिया विभाग पोलिंग सेंटर के पोलिंग बूथ संख्या 99, 100 पर वोट डालने आए मतदाताओं में से कई ऐसे मतदाता भी थे जिनके पूरे परिवार का नाम वोटर लिस्ट से गायब मिला। मतदातओं ने बताया कि जब वह अपना मत देने के लिए बूथ पर पहुंचे तो उन्हें यहां तैनात बीएलओ ने बताया कि उनका नाम वोटर लिस्ट में नहीं है जिससे वे अपना मत नही डाल सकते। इतनी बड़ी संख्या में एक पोलिंग बूथ से वोटरों का नाम गायब होने से साफ पता चलता है कि प्रशासन इसके प्रति कितनी लापरवाह की है।

लोगों ने प्रशासन के खिलाफ प्रदर्शन करते हुए इस पोलिंग बूथ का चुनाव रद्द कराने की मांग की। वहीं जहां एक तरफ लोग वोटर लिस्ट में नाम न होने के कारण अपना मत नहीं डाल पाए वंही दूसरी तरफ जिनका नाम वोटर लिस्ट में है उसका वोट बिना डाले ही पड़ गया। सरोज दुबे नाम की महिला अपना मतदान करने यहां आई तो पता चला कि इनका वोट पहले से पड़ चुका हैं। जबकि इन्होंने अपने मताधिकार का प्रयोग नहीं किया। इनको पोलिंग बूथ से यह कहकर वापस भेज दिया गया कि इनका वोट डाला जा चुका है, जबकि इनके उंगलियों में वोट डालने के बाद पड़ने वाला स्याही का निशान भी नही लगा है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here