फिल्म पद्मावती का ममता ने किया स्वागत

विवादों से घिरी हुई फिल्म पद्मावती को थोड़ी सी राहत मिल गई है पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि वह फिल्म पद्मावती के निर्देशक संजय लीला भंसाली और उनकी पूरी टीम को राज्य में आमंत्रित कर रही हैं और फिल्म के प्रीमियर और रिलीज के लिए खास बंदोबस्त कर रही हैं.

संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावती काफी समय से विवादों के कटघरे में खड़ी है. लेकिन अब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा है कि उनका राज्य इस फिल्म और इस फिल्म के कलाकारों का अपने राज्य में स्वागत करने को तैयार हो गई है. इस मुद्दे ममता बनर्जी ने पहले ही ट्वीट कर कहा था कि वह ‘सुपर इमरजेंसी की निंदा करते हैं. फिल्म जगत के सभी लोगों को एकजुट होकर सामने आना चाहिए और इसके खिलाफ आवाज बुलंद करनी चाहिए.

पूरे भारत में पद्मावती की रिलीज का कई राजनीतिक दल और संगठन इसका विरोध कर रहे हैं . विरोध कर रहे संगठनों और राजनीतिक दलों का आरोप है कि पद्मावती फिल्म में कुछ ऐतिहासिक तथ्यों से छेड़छाड़ की गई है. पद्मावती फिल्म के निर्देशक भंसाली इस पर अपना पक्ष भी रख चुके हैं लेकिन फिर भी इसका विरोध रुकने का नाम नहीं ले रहा है.अधिकतर राज्यों ने इस फिल्म को रिलीज करने से इंकार कर दिया है जिनमें यूपी, मध्य प्रदेश, गुजरात और भी कई अन्य राज्य शामिल है. गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपानी ने 22 नवंबर को घोषणा की थी कि उनकी सरकार राज्य में होने वाले चुनावों के दौरान पद्मावती को रिलीज करने की अनुमति नहीं देगी. मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी इस फिल्म को अपने राज्य में रिलीज करने से इंकार कर दिया है.

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस फिल्म के निर्देशक को राजपूत समुदाय की भावना से खिलवाड़ करने वाला बताया है तो वही राजस्थान फिल्म के अंदर से आपत्तिजनक दृश्य को हटाने की मांग की है. पद्मावती फिल्म की शूटिंग के दौरान ही इस फिल्म का विरोध करना लोगों ने शुरू कर दिया था इसी विरोध के चलते फिल्म की रिलीज डेट को आगे बढ़ाया जा चुका है. पहले यह फिल्म 1 दिसंबर को रिलीज होने वाली थी लेकिन इस फिल्म की रिलीज डेट को टल दिया गया है. सेंसर बोर्ड से भी इस फिल्म को मंजूरी नहीं मिली है. मंजूरी मिलने के बाद ही इस फिल्म की अगली रिलीज़ डेट का ऐलान किया जाएगा.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here