गुजरात रण: फिर गरजेंगे पीएम मोदी, टिकी सभी की निगाहें

गुजरात चुनाव को लेकर इन दिनों राजनीतिक सरगर्मियां तेज हो गई हैं। कांग्रेस की तरफ से चुनाव जीतने के लिए खासा दमखम लगाया जा रहा है। इस बार अपना वनवास तोड़ने के लिए कांग्रेस पूरी जी जान से लगी हुई है। लेकिन बीजेपी की तरफ से पीएम मोदी एक बार फिर से गुजरात में हुंकार भरने वाले हैं। जानकारी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर से 27 और 29 नवंबर को गुजरात में वोट इकट्ठा करने वाले हैं। इसके लिए पीएम यहां पर रैली करेंगे।

pm modi

लेकिन इस बार कांग्रेस की तरफ से उपाध्यक्ष राहुल गांधी गुजरात में गरज रहे हैं। देखा जा रहा है कि राहुल गांधी गुजरात में वोट बटोरने में कामयाब हो रहे हैं। लेकिन बीजेपी किसी के लिए गुजरात विधानसभा चुनाव नाक का सवाल बना हुआ है। गुजरात बीजेपी का गढ़ कहा जाता है इसलिए यहां से बीजेपी किसी भी सूरत में चुनाव जीतना चाहती है। इसलिए पीएम मोदी गुजरात में 17 सभाओं को संबोधित करने वाले हैं। पीएम मोदी की रैलियों पर सभी की निगाहें टिकी हुई हैं। यहां आकर पीएम मोदी किन मुद्दों को उठाने वाले हैं यह विपक्षियों के लिए गले की फांस बनी हुई है।

किन मुद्दों पर होगा फोकस ?
इसको लेकर अटकलों का बाजार इन दिनों गर्म हो रखा है। सूत्रों के हवाले से खबर है कि पीएम मोदी अपनी सभाओं में जातिवाद को लेकर विपक्षियों पर निशाना साध सकते हैं। पाटीदारों, ओबीसी समेत दलितों को पीएम मोदी इस बार अपने पक्ष में करने की कोशिश कर सकते हैं। सूत्रों के हवाले से जानकारी है कि पीएम मोदी विपक्षियों द्वारा जीएसटी को लेकर की जा रही तरह तरह की आलोचनाओं का जवाब भी दे सकते हैं।

अस्मिता
सूत्रों के हवाले से जानकारी है कि पीएम मोदी यहां आकर एक ऐसा दांव खेल सकते हैं जोकि हमेशा निशाने पर लगता है। दरअसल पीएम मोदी को हमेशा से गुजरात का बेटा कहा जाता है जिस कारण वह अपने भाषण के दौरान गुजरात के लोगों को प्रभावित कर सकते हैं। वह गुजरात की जनता को गुजराती होने के नाते प्रभावित कर सकते हैं। इस दौरान वह विपक्षियों पर निशाना साधते हुए अलग अलग मुद्दों को उठाएंगे और विपक्षियों पर वार करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here