गुजरात घमासान: लिस्ट जारी होने के बाद कांग्रेस और पाटीदारों के बीच बवाल

गुजरात में इन दिनों राजनीतिक घमासान मचा हुआ है। कांग्रेस की तरफ से विधानसभा चुनाव के लिए 77 प्रत्याशियों की लिस्ट पहले ही जारी की जा चुकी है। लेकिन रविवार को यह बात मीडिया में फैलाई जाने लग गई कि कांग्रेस के उम्मीदवारों की एक फर्जी लिस्ट जारी हुई है। जिसके बाद मीडिया के सामने शाम होते होते कांग्रेस की असली लिस्ट जारी हो गई। इस दौरान आरोप प्रत्यारोप की राजनीति भी चरम पर पहुंच गई। कांग्रेस की तरफ से बीजेपी पर गंभीर आरोप लगाए गए।

rahul gandhi

कांग्रेस की तरफ से कहा गया कि बीजेपी ने ही फर्जी लिस्ट की बात फैलाई है। इस दौरान बीजेपी की जमकर आलोचना की गई। कांग्रेस प्रवक्ता की तरफ से इस दौरान कहा गया कि बीजेपी को पता लग गया है कि वह गुजरात में चुनाव नहीं जीत सकती है इसलिए ऐसे कामों पर बीजेपी अब उतर आई है। लेकिन दूसरी तरफ 77 उम्मीदवारों की लिस्ट जारी होने के बाद कांग्रेस और पीएएएस संगठन के सदस्यों में मारपीट होने की खबर आई। पीएएएस संयोजक दिनेश भामडिया की तरफ से कांग्रेस पर गंभीर आरोप भी लगाए गए।

आपको बता दें कि खबरें आ रही थी कि कांग्रेस पाटीदारों की समर्थन पाने के लिए आरक्षण को लेकर जरूरी बातों को मान चुकी है तथा पाटीदार अनामत आंदोलन समिति की तरफ से पाटीदार नेता हार्दिक पटेल को लेकर अटकलें लगाई जा रही हैं कि सोमवार को वह कांग्रेस के समर्थन का ऐलान भी कर सकते हैं। देखने वाली बात है कि पीएएएस और कांग्रेस कार्यकर्ताओं के बीच लिस्ट जारी होने के बाद जमकर बवाल हुआ था। इस बीच जानकारी है कि लिस्ट जारी होने के बाद वराछा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार प्रफुल तोगड़िया के ऑफिस पर पाटीदार लोगों ने हंगामा किया था तथा तोड़फोड़ भी की थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here