सरकार ने दी बेटियों को सौगात, प्राइवेट स्कूल में फ्री पढ़ेंगी बेटियां

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ अभियान को आगे बढ़ाते हुए सरकार ने बड़ा फैसला लिया है। सरकार के फैसले के अनुसार जिन माता के पिता के पास एक बेटी है उसे वह प्राइवेट स्कूल में निशुल्क पढ़ा सकते हैं और जिनकी दो बच्चे हैं वह एक को तो निशुल्क पढ़ा सकते हैं और दूसरे के फीस सिर्फ 50 फीसदी तक ही देंगे। CBSE की तरफ से की गई इस घोषणा में एक सबसे महत्वपूर्ण बात यह है कि इस सुविधा का लाभ लेने के लिए छात्रा का स्कूल में प्रवेश पहले या छठी कक्षा में करवाना अनिवार्य होगा।

cbse announces, big decision, favor of girls, private school, free education
school

योजना 12 वीं तक लागू रहेगी इसके साथ माता पिता को एक प्रक्रिया से गुजरना पड़ेगा। सबसे पहले दो अभिभावकों को दो बच्चे होने का श्वेत पत्र देना होगा और इस पत्र पर जिला अधिकारी के दस्तखत होना जरूरी है यह पत्र आपको जिला अधिकारी के पास मिल जाएगा। इस पत्र के प्राप्त होने के बाद अभिभावक इस योजना का लाभ उठा सकते हैं।

आपको बता दें इससे पहले यह योजना 2008 में भी लागू हुई थी लेकिन निजी स्कूलों के कड़े विरोध के बाद और कुछ मनमाने फैसलों की वजह से यह प्रक्रिया पूरी तरह से विफल रह गई थी पर अब सीबीएसई ने अपनी गाइडलाइंस में कुछ बदलाव करके इस प्रक्रिया को फिर से अमल में लाने का प्रयास किया है अगर अभिभावक का एक बेटा और एक बेटी होगी तो वह इस योजना का लाभ नहीं उठा सकेंगे उन्हें इस योजना से बाहर रखा जाएगा। इस योजना में बने रहने के लिए एक या दो बच्चियों का होना अनिवार्य है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here