भंसाली का ड्रीम प्रोजेक्ट आएगा बड़े पर्दे पर

संजय लीला भंसाली के ड्रीम प्रोजेक्ट में से एक फिल्म पद्मावत 24 जनवरी को बड़े पर्दे पर आने जा रही है. इससे पहले फिल्म का नाम ‘पद्मावती’ रखा गया था लेकिन करणी सेना के कड़े विरोध के बाद इसे ‘पद्मावती’ से ‘पद्मावत’ कर दिया गया.

लड़ते-गिरते ‘पद्मावत’ आखिरकार बड़े पर्दे पर रिलीज होने जा रही है लेकिन अब इस फिल्म का कई गुट इसका विरोध कर रहे हैं. हाल ही में अहमदाबाद के मॉल में तोड़फोड़ की गई और कई गाड़ियों को नुकसान पहुंच गया. दीपिका पादुकोण, शाहिद कपूर और रणवीर सिंह जैसे सितारों से सजी धजी फिल्म पद्मावत करीब 2 घंटे और 43 मिनट की है. फिल्म को सेंसर बोर्ड ने यू/ए सर्टिफिकेट के साथ पास किया है. लेकिन इसके पीछे बहुत बड़ा ड्रामा हुआ. दरअसल, जब यह फिल्म सेंसर बोर्ड के पास पहुंची थी, तब तक पूरे देश भर में इस पिक्चर को लेकर काफी बवाल मर चुका था. पहले 1 दिसंबर 2017 को फिल्म ‘पद्मावत’ को रिलीज करने की तैयारी थी, जिसका कई संगठनों ने विरोध करते किया. फिर इस रिलीज डेट को 24 जनवरी कर दिया. फिल्म डेट आगे करने को लेकर फिल्म के निर्माता संजय लीला भंसाली का खर्च 200 करोड रुपए से भी आगे जा सकता हैं.

फिल्म पद्मावत को हिंदी सहित तमिल और तेलुगु भाषा में भी रिलीज किया जाएगा. हिंदी भाषा के लिए करीब 4,500 स्क्रीन है. तो अन्य भाषाओं के करीब 6,000 स्क्रीन है. हालांकि अभी इसकी कोई निश्चित संख्या नहीं बताई गई है. विषेशज्ञ की माने तो पद्मावत को शुरुआत में ही काफी अच्छा फायदा हो सकता है, 24 जनवरी रिलीज होने के कारण फिल्म पद्मावती को काफी लंबा और अच्छा विकेट मिला हैं. गुरुवार को रिलीज हो रही इस फिल्म को 26 जनवरी की छुट्टी और फिर वीकेंड के होने का असर देखने को मिल सकता हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here