SC: पूरे देश में दिखाई जाएगी पद्मावत, करणी सेना का विरोध जारी

लंबे समय से विवादों में गिरने के बाद संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत को 25 जनवरी को पूरे देश में रिलीज किया जाएगा. इसके लिए पद्मावत का रास्ता अब साफ हो गया हैं. कोर्ट की तरफ से राजस्थान और गुजरात सरकार के उस आदेश और नोटिफिकेशन को खत्म कर दिया गया है, जिसमें यह कहा गया था कि पद्मावत फिल्म इन राज्यों में रिलीज नहीं की जाएगी.

लेकिन इन सबके बीच फिल्म के विरोध में हमेशा आगे रहने वाली करणी सेना की तरफ से यह कहा गया है कि पद्मावत फिल्म को लेकर उनका विरोध जारी रहेगा और वह फिल्म को किसी भी हाल में रिलीज नहीं होने देंगे. बुधवार को तीन सदस्यीय बेंच के प्रमुख न्यायाधीश दीपक मिश्रा ने कहा है कि राज्य सरकार का कर्तव्य है कि वह अपने यहां कानून व्यवस्था को पूरी तरह से बनाए रखें. उन्होंने कहा है कि सिर्फ राजस्थान और गुजरात ही नहीं बल्कि उन सभी राज्यों के नोटिफिकेशन को खारिज कर दिया जाता है, जिसमें यह लिखा गया था कि इस फिल्म को राज्य में रिलीज नहीं किया जाएगा. मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की तरफ से यह कहा गया है फिल्म के प्रदर्शन पर रोक लगाने के तरीके ने उन्हें स्तब्ध कर दिया हैं. सुप्रीम कोर्ट में मौजूद वरिष्ठ वकील मुकुल रोहतगी और हरीश साल्वे ने बेंच को बताया कि सेंसर बोर्ड ने इस फिल्म को रिलीज के लिए पास कर दिया है तो राज्यों के पास इस फिल्म को रोकने के लिए कहां से अधिकार आ गया.

आपको बता दें कि गुजरात राजस्थान मध्यप्रदेश और हरियाणा सरकार की तरफ से राज्य में इस फिल्म को लेकर रोक लगा दी गई थी, जिसके खिलाफ फिल्म निर्माता ने अदालत में याचिका दाखिल की थी. वही अब संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत 25 जनवरी को देशभर में देरी होगी लेकिन कुछ लोग यह 24 जनवरी को भी देख सकते हैं. 24 जनवरी को फिल्म निर्माताओं की तरफ से पेड प्रीव्यू रखने का फैसला लिया गया हैं. वही 25 जनवरी को अक्षय कुमार की पैडमैन फिल्म भी रिलीज हो रही हैं. ऐसे में माना जा रहा है कि संजय लीला भंसाली की फिल्म पद्मावत और पैडमैन के बीच कड़ी टक्कर हो सकती हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here