साल का पहला सूर्य ग्रहण, भूलकर भी ना करें ये गलती

साल के पहले चंद्र ग्रहण के बाद अब 15 फरवरी को साल 2018 का पहला सूर्य ग्रहण है. साल 2018 का पहला सूर्य ग्रहण 15 फरवरी की रात करीब 12 बजकर 25 मिनट पर शुरू होकर 16 फरवरी की सुबह 4 बजकर 18 मिनट तक रहेगा. जिसमें सूतक काल माने जा रहे हैं वाला ग्रहण करीब 12 घंटे से पहले लग जाएगा.

सूतक काल का ग्रहण 12 घंटे पहले यानी 15 फरवरी की सुबह 11 बजकर 35 मिनट पर से शुरू हो जाएगा. सूतक काल के ग्रहण में कोई भी शुभ काम या फिर पूजा पाठ करने की मनाही होती हैं. इसके अलावा सूरज को खुली आंखों से देखना भी नहीं चाहिए. ऐसा माना जाता है कि सूर्य ग्रहण के दौरान सूरज को देखने से आपके नाजुक टिश्यू डैमेज हो जाते हैं, जिस कारण आपको आगे जाकर सामान्य देखने में दिक्कत हो सकती है. इस तरह की परेशानी आपको हमेशा के लिए या फिर कुछ वक्त के लिए भी हो सकती है.

इससे बचने के लिए आप कभी भी खुली आंखों से सूरज को डायरेक्ट ना देखें. आप अपने नॉर्मल चश्मे या गॉगल्स को लगा कर भी सूरज को न देखे. अगर आपके पास सूरज से बचने का कोई उपाय नहीं है तो कोशिश करें सूरज ग्रहण के दौरान सूरज की तरफ पीठ करके चले. सूरज ग्रहण के दौरान सूरज को पिनहोल कैमरा, टेलिस्कोप या फिर दूरबीन से भी देखने की गलती ना करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here