प्रदुमन हत्याकांड: इतने दिनों तक कैसे बचता रहा आरोपी छात्र, जांच शुरू

गुरुग्राम के बहुचर्चित प्रद्युमन हत्याकांड मामले में पुलिस ने हत्यारे को गिरफ्तार कर लिया है। इसके बाद अब सवाल उठ रहे हैं इतने दिनों तक आरोपी पुलिस की गिरफ्त से बाहर कैसे रहा था। हत्याकांड के खुलासे के बाद पुलिस की स्पेशल इन्वेस्टीगेशन टीम पर लगातार सवाल उठाए जा रहे हैं। सूत्रों के हवाले से खबर है कि सीबीआई ने अपनी इंवेस्टिगेशन में पाया कि पुलिस ने अपनी जांच में कई तथ्यों को छोड़ दिया था तथा मामले को गलत तरह से पेश किया गया और यह सब पुलिस की जांच में हुआ था।

सूत्रों के हवाले से खबर है कि रेयान इंटरनेशनल स्कूल में प्रद्युम्न हत्याकांड की शुरुआती जांच में पुलिस ने कई सबूतों को छोड़ दिया था जिसके बाद बस कंडक्टर अशोक कुमार को इस मामले में आरोपी करार दिया गया था। सूत्रों के अनुसार हत्याकांड के खुलासे के बाद सीबीआई एसआईटी टीम से सवाल कर रही है कि पुलिस ने महत्वपूर्ण सुरागों को क्यों छोड़ दिया था। एसआईटी ने इस मामले में 10 दिन तक जांच की थी जिसमें यह दावा किया गया था कि कई बार सीसीटीवी फुटेज को खंगाला गया है वही अब सीबीआई इस बात को जानने की कोशिश कर रही है कि इतने दिनों तक छात्र पुलिस की हिरासत से कैसे बाहर रहा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here