Delhi के एक घर में मिले 11 शव, पड़ोसी बोले- ये सुसाइड नहीं, साजिश है

पुलिस घटनास्थल पर पहुंची तो घर का मेन गेट और पहली मंजिल का गेट खुला हुआ था।

  • 3 एंगल पर टिकी पुलिस की जांच, अब पोस्टमार्टम की रिपोर्ट का इंतजार
  • कॉलोनी में न किसी ने कुछ देखा, न सुना, घर के गेट खुले थे पर कैश और सोना सलामत
  • एक या कुछ सदस्यों ने बाकी को नशीला पदार्थ खिलाकर लटकाया, फिर खुद फांसी लगाई
  • रजिस्टर में लिखे 4 पेज मिले, जिसमें मोक्ष के लिए परमात्मा से मिलने की बात है

Delhi NCR. ​बुराड़ी इलाके के एक घर में रविवार सुबह 7 महिलाओं समेत 11 लोगों की मौत के मामले में नया खुलासा हुआ है। पुलिस ने पहले सामूहिक हत्याकांड का केस दर्जकर जांच क्राइम ब्रांच को सौंप दी थी। लेकिन घर में मिले सबूतों के आधार पर देर शाम तक जांच सामूहिक आत्महत्या की ओर घूम गई। घर से बरामद एक रजिस्टर में आध्यात्मिक बातें लिखी मिलीं। आधा भर चुका यह रजिस्टर दिसंबर से लिखना शुरू किया गया था। 26 जून को चार पेज भरे गए। इनमें 30 जून को भगवान से मिलने जाने की बात भी कही गई। इसमें लिखा गया था- शरीर नश्वर है और आत्मा अमर। इसमें ये भी लिखा था कि कोई किस तरह हाथ-मुंह ढंककर अपने डर से उबर सकता है। निर्वाण का भी जिक्र किया गया था।

इन लोगों की मौत हुई :भूपी सिंह भाटिया (45), उसकी पत्नी श्वेता (42), बेटी नीतू (24), बेटी मीनू (22) और बेटा ध्रुव (15), भूपी का भाई ललित (42) उसकी पत्नी टीना (38), ललित का बेटा शिवम (12), भूपी की मां नारायण देवी (75), भूपी की बहन प्रतिभा (58), प्रतिभा की बेटी प्रियंका (30)।

मामले से जुड़ी अहम जानकारियां :

  1. रजिस्‍टर में लिखा है कि पटिया अच्छे से बांधनी हैं, शून्य के अलावा कुछ नही दिखना चाहिए. रस्सी के साथ सूती चुनिया या साड़ी का प्रयोग करना हैं.
  2. सात दिन बाद लगातार पूजा करनी है्. इस पूजा को थोड़ा लग्न और श्रद्धा के साथ करना है. इस पूजा के दौरान अगर कोई घर में आ जाए तो यह पूजा अगले दिन करनी है.
  3. इस पूजा के लिए गुरुवार और रविवार को चुना है.
  4. रजिस्‍टर में लिखा है कि बुजुर्ग महिला बेबे खड़ी नहीं हो सकती तो अलग कमरे में लेट सकती हैं. आपको बता दें कि बुजुर्ग महिला की गला  रेत कर हत्‍या की गई थी. इस महिला का शव दूसरे कमरे में मिला है.
  5. इस रजिस्‍टर में लिखा है कि परिवार के सभी लोगों की सोच एक जैसी होनी चाहिए. ये पहले से ज्यादा दृढ़ता से बढ़ना होगा और ये करते ही तुम्हारे आगे के काम दृढ़ता से शुरू होंगे.
  6. जब सब लोग हत्‍या करेंगे तो उस वक्‍त कमरे में हल्‍की रोशनी होनी चाहिए.
  7. इस रजिस्‍टर में लिखा है कि हाथों की पटिया अगर बच जाए तो उसे आंखों पर डबल कर लेना.
  8. इतना ही नहीं मुंह की पट्टी को भी रुमाल से डबलकर लेना है.
  9. बुराड़ी के एक घर में 11 लाशें मिलने के बाद इस पूरे मामले को आत्‍महत्‍या से जोड़कर देखा जा रहा है और इसके घर से जो दो रजिस्‍टर मिले उसमें लिखा है. जितनी दृढ़ता और श्रद्धा दिखाओगे उतना ही उचित फल मिलेगा
  10. इस रजिस्‍टर में लिखा है रात्रि के 12 से 1 के बीच क्रिया करनी हैं उसके पहले हवन करना है.

अधिक जानकारी के लिए ये video देखे 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here