मैक्स अस्पताल लापरवाही: नहीं बच पाया नवजात, इलाज के दौरान तोड़ा दम

कुछ वक्त पहले खबर आई थी कि दिल्ली के शालीमार बाग के मैक्स अस्पताल में एक नवजात बच्चे को डॉक्टरों द्वारा मृत घोषित कर दिया गया है जिसके बाद किसी दूसरे अस्पताल में बच्चे का इलाज किया जा रहा था लेकिन बुधवार को उस नवजात बच्चे ने दम तोड़ दिया। नवजात बच्चे को पीतमपुरा के अग्रवाल अस्पलात में भर्ती कराया गया था जिसके बाद बुधवार को इलाज के दौरान उसने दम तोड़ दिया।

max hospital case the newborn who was found to be alive later by parents has also passed away delhi     max hospital case, newborn baby, found be alive, later parents, passed away, delhi
max hospital

मैक्स अस्पताल की खबर फैलने के बाद काफी ज्यादा हंगामा हो गया था। वही अब नवजात के परिजनों ने उसके शव को लेने से इनकार कर दिया है। नवजात के माता पिता का कहना है कि जब तक आरोपी डॉक्टरों के खिलाफ सख्ती से कोई कार्रवाई नहीं की जाती तब तक वह बच्चे के शव को नहीं लेंगे। आपको बता दें कि हाल ही में मामला सामने आया था कि मैक्स अस्पताल में जुड़वा बच्चों में से एक को डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था लेकिन नवजात के परिजनों ने पाया कि वह जिंदा है तथा उसे पीतमपुरा के अग्रवाल अस्पताल में भर्ती कराया गया।

मैक्स अस्पताल के डॉक्टरों की इतनी बड़ी लापरवाही सामने आने के बाद डॉक्टरों को सस्पेंड कर दिया गया था। लेकिन बच्चे के परिजनों की मांग है कि डॉक्टरों पर सख्ती से कार्रवाई की जाए। यहां तक की अस्पताल पर भी कार्रवाई की मांग की जा रही है। वही रिपोर्ट के अनुसार अस्पताल में कई सारी गलतियां सामने आ रखी हैं। जानकारी है कि अगर डॉक्टर बच्चे को मृत घोषित करने से पहले ईसीजी की जांच करते तो ऐसा नहीं होता।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here