प्रदूषण के कारण अन्य देशों के राजदूत दिल्ली छोड़ने पर हुए मजबूर…

दिल्ली में बढ़ते प्रदूषण के कारण लोगों को खासा परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। बढ़ते प्रदूषण के कारण जहां आम लोग परेशान हैं तो दूसरी तरफ इसका असर अब अन्य देशों से आने वाले राजदूतों पर भी दिखाई दे रहा है। दिल्ली में बढ़ता प्रदूषण और स्मार्ट बहुत ही खतरनाक रूप लेता जा रहा है इसका अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि 2 महीनों के अंतराल में दिल्ली में रहने वाले कई विदेशी लोगों और कई दिल्ली वासियों ने भी दिल्ली में साथ छोड़ दी है।

delhi polluction

दिल्ली में रह रही कोस्टा रिका की एंबेसडर महिला-पुरुष अल्वारेज जो कि इन दिनों दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण की वजह से बीमार हो गई हैं। अल्वारेज इन दिनों दिल्ली छोड़कर बेंगलुरु में रहने के लिए पहुंच गई है। इस बात का जिक्र उन्होंने अपने ब्लॉग पर किया है। जिसमें लिखा है कि दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण उनकी सेहत के लिए हानिकारक है। इस कारण उन्होंने दिल्ली छोड़ने का फैसला किया है और वह अब मैं बेंगलुरु में रह रही हैं।

अपने ब्लॉग में उन्होंने लिखा है कि प्रदूषण दिल्ली ही नहीं पूरी दुनिया को धीरे-धीरे तबाह कर रहा है वह भारत देश से बहुत प्यार करती हैं और इसे प्रदूषण मुक्त कराने के लिए पहल करना चाहती हैं। आपको बता दें कि अल्वारेज के अलावा भी बहुत से देशों के एंबेसडर दिल्ली में रहते हैं जो कि अब दिल्ली छोड़ने को मजबूर हो गए हैं। अल्वारेज के अलावा भी कई देशों के एंबेसडर दिल्ली में रहते हैं जो कि अब दिल्ली छोड़ने का प्लान बना रहे हैं। पिछले हफ्ते एम्बेसडर चुटीटरोन गोंगसकदी ने बैंककॉक के अफसरों को पत्र लिखकर यह कहा कि उन्हें दिल्ली में रहने के लिए ‘हार्डशिप अलाउंस’ दिया जाए, क्योंकि दिल्ली में बढ़ रहे प्रदूषण की वजह से उनकी सेहत खराब हो रही है।

जानकारी के लिए बता दें कि हार्डशिप अलाउंस उन देशों के राजदूतों को दिया जाता है जिन देशों में उनकी जान को खतरा हो जैसे अफगानिस्तान, इराक और सीरिया जैसे कठिन परिस्थितियों वाले देशों में पोस्टेड अंबेसडर को दिया जाता है। मेक्सिकन एंबेसडर ने कहा कि दिल्ली में प्रदूषण के कारण रहना बहुत ही मुश्किल हो गया है यहां राजनीति से ज्यादा प्रदूषण बढ़ गया है इसलिए हमें दिल्ली को छोड़ना पड़ेगा क्योंकि हमारा परिवार हमसे है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here