न्यूड लड़कियों से मालिश कराता और रोजना 10 से करता रेप, ऐसा है ‘हवसी बाबा’

हवस के पुजारी बाबाओं का आतंक खत्म होने का नाम ही नहीं ले रहा है, पहले गुरमीत बाबा राम रहीम आदि तो अब दिल्ली के रोहिणी के विजय विहार इलाके से एक ऐसे बाबा का पर्दाफाश हुआ है जो आध्यात्मिक विश्वविद्यालय के नाम पर नाबालिगों का यौन शोषण करता था. इल ढोंगी बाबा का नाम वीरेंद्र देव दीक्षित है जिसने अपने आप के कृष्ण घोषित कर रखा है. पुलिस ने बुधवार को इसके आध्यात्मिक विश्वविद्यालय पर छापेमारी की जिसके बाद कई राजों पर से पर्दा उठ गया.

न्यूड लड़कियों से मालिश कराता और रोजना 10 से करता रेप, ऐसा है 'हवसी बाबा'  delhi rohini adhatmik vishwvidyalya ashram baba virendra dev dixit rape daily 10 girls    delhi rohini, adhatmik vishwvidyalya ashram, baba, virendra dev dixit, rape daily, 10 girls
baba

आरोपी बाबा पर अर्जी सीमा शर्मा नामक महिला ने दाखिल की थी. सीमा शर्मा ने आरोप लगाया है कि आरोपी बाबा रोजाना 10 लड़कियों को ड्रग्स देकर उनके साथ यौन शोषण करता है. आरोप है कि बाबा लड़कियों के कपड़े उतरवाकर अपने शरीर की मालिश कराता है. वही मीडियो रिपोर्ट्स के अनुसार जानकारी है कि आरोपी बाबा का लक्ष्य था कि वह 16 हजार लड़कियों के साथ संबंध स्थापित करेगा. ऐसे में बाबा पर कई सारे गंभीर आरोप लगाए गए हैं. जो भी बाबा के बारे में जान रहा है वह हैरान रह जा रहा है. जानकारी है कि आरोपी बाबा पर याचिका दायर करने वाली महिला राजस्थान की है जोकि आश्रम में अनुयायी बन कर रह चुकी है.

जानकारी है कि अपनी चार बेटियों को उसने बाबा की भक्ति के लिए आश्रम में छोड़ा था. लेकिन उसकी बेटी ने उसे बताया कि बाबा के इरादे ठीक नहीं है तथा वह उसके साथ घटिया हरकतें करता है. जिसके बाद बाबा पर महिला के पति ने रेप केस दर्ज करा दिया. पुलिस ने हवस के पुजारी बाबा पर रेप समेत कई सारी धाराओं के तहत मामला दर्ज कर लिया है. वही जानकारी है कि ढोंगी बाबा हमेशा महिलाओं के बीच में रहना पसंद करता था वह अपने आप को कृष्ण का अवतार बताता था और संबंध बनाने के लिए लड़कियों को कृष्ण की गोपियां बताता था. वही पुलिस ने अपनी छापेमारी में कई सारी चीजें बरामद की है जिसमें कई सारे मैमोरी कार्ड, सिम आदि चीजें बरामद की गई है. ऐसे में कई सारी वीडियो भी बाहर आई हैं जिससे बाबा की घटिया हरकतों का खुलासा हुआ है. बुधवार को छापेमारी के बाद पुलिस ने रिपोर्ट हाईकोर्ट में भी सौंप दी है.

आपको बता दें कि इससे पहले आश्रम के अनुयायियों ने पुलिस टीम को बंधक भी बनाने की कोशिश की थी. इस मामले में दिल्ली महिला आयोग की अध्यक्ष ने बताया कि आश्रम में लड़कियों को नशे की दवाई दी जाती थी. वही पुलिस ने आश्रम कि तालाशी के दौरान कई सारे तालों को भी तोड़ा है जहां से चौंका देने वाले राज सामने आए हैं. फिलहाल आश्रम से मिली लड़कियों को पुलिस ने मेडिकल टेस्ट के लिए भेज दिया है. पुलिस मामले की कार्रवाई करने में लगी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here