छोटा राजन पर मंडराता मौत का बादल, किसी भी सूरत में मारना चाहता है दाऊद इब्राहिम

इन दिनों जेल में बंद छोटा राजन पर मौत के बादल मंडराने लग रहे हैं. मोस्ट वांटेड अंडरवर्ल्ड डॉन दाऊद इब्राहिम छोटा राजन की जान के पीछे पड़ा हुआ है. खुफिया एजेंसियों का दावा है कि दाऊद इब्राहिम ने दिल्ली की लोकल गैंग को छोटा राजन के खात्मे का जिम्मा सौंपा है. दाऊद किसी भी तरह छोटा राजन को खत्म करना चाहता है. इस खुलासे के बाद छोटा राजन की सुरक्षा को बढ़ा दिया गया है. छोटा राजन इस वक्त दिल्ली के तिहाड़ जेल में बंद है. जहां पर उसकी मौत की खतरनाक साजिश को रचा जो रहा है.

chhota rajan faces a therat from delhi top gangster neeraj bawana tihad jail    chhota rajan, faces a threat, delhi top gangster, neeraj bawana, tihad jail, delhi police   chhota rajan, faces a threat, delhi top gangster, neeraj bawana, tihad jail, delhi police
chota rajan

जानकारी है कि गैंगस्टर नीरज बवाना और छोटा राजन एक साथ तिहाड़ जेल नंबर दो में बंद थे. सूत्रों के हवाले से खबर है कि छोटा राजन के खात्म के लिए दाऊद इब्राहिम ने गैंगस्टर नीरज बवाना को जिम्मा दिया है. लेकिन सूत्रों के हवाले से खबर है कि बवाना गैंग के सदस्य ने इसकी जानकारी पहले ही लीक कर दी. जैसे ही खुफिया एजेंसियों को इस साचिश की खबर लगी तो तत्काल एक साथ जेल में बंद छोटा राजन और नीरज बवाना को अलग कर दिया. जिसके बाद नीरज बवाना को तन्हाई सेल में डाल दिया गया है. आपको बता दें कि छोटा राजन एक अंडरवर्ल्ड डॉन है जिसका असली नाम राजेंद्र सदाशिव निकल्जे है.

छोटा राजन पर आरोप है कि उसने फर्जी पासपोर्ट बंगलुरु ऑफिस के जय श्री दत्तात्रेय रहाते, दीपक नटवरलाल शाह और ललिता लक्ष्मणन की मदद के हासिल किया था. जिसको मोहन कुमार नाम से दिया गया था. साल 2015 अक्टूबर 25 को इंडोनेशिया के बाली से पुलिस ने छोटा राजन को गिरफ्तार किया था. जिसके बाद फर्जी पासपोर्ट मामले में पटियाला हाउस कोर्ट की स्पेशल कोर्ट ने छोटा राजन को सात साल की सजा सुनाई थी. जिसके बाद उसे तिहाड़ जेल में भेज दिया गया था. उसका जन्म 1960 में मुंबई के चेंबूर की तिलक नगर बस्ती में हुआ था. अपनी 10 साल की उम्र में उसने फिल्म टिकट के ब्लैक करना शुरु कर दिया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here