2जी है देश का सबसे बड़ा घोटाला लेकिन बरी हुए सभी आरोपी

देश के सबसे बड़े 2जी घोटाले में दिल्ली में स्थित पटियाला हाउस कोर्ट ने पूर्व टेलिकॉम मंत्री ए राजा और कनिमोझी सहित सहित सभी 19 आरोपियों को बाइज्जत बरी कर दिया है. कोर्ट ने सबूतों के अभाव के चलते सभी 19 आरोपियों को बरी कर दिया है. पटियाला हाउस कोर्ट में गुरुवार को 2जी घोटाले के संबंध में तीन सुनवाई हुई जिसमें दो केस सीबीआई की तरफ से थे और एक केस ईडी की तरफ से था.

 2G is the country biggest scam but all acquitted cbi patiyala house court    2G case, country biggest scam, all acquitted, cbi, patiyala house court, police, crime
patiyala house court

पटियाला हाउस कोर्ट के इस फैसले के बाद पूर्व टेलीकॉम मंत्री ए राजा और सांसद करी मोदी के समर्थकों में खुशी की लहर दौड़ गई. उनके समर्थक पटियाला हाउस कोर्ट के बाहर आकर अपनी खुशी का प्रदर्शन करने लगे. कई समर्थक सत्यमेव जयते के पोस्टर बैनर लेकर खड़े नजर आए. ए राजा पर यह आरोप था कि उन्होंने 2008 में हुए 2जी स्पेक्ट्रम नीलामी में बंदरबांट की है. उन्होंने कई 2G आयोग्य कंपनियों को बड़े ही कम दाम में बेच दिया है. जिससे सरकार को करीब 1 लाख 76 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ है. ऐसे में सुप्रीम कोर्ट ने इन सभी टेलीकॉम कंपनियों के लाइसेंस रद्द कर दिए थे. लेकिन गुरुवार की हुई सुनवाई में किसी को भी दोषी नहीं पाया गया है. कई एक्सपर्ट्स का कहना है कि सीबीआई अपना केस कोर्ट के सामने सही तरह से रख नहीं पाई जिस वजह से यह सभी मुख्य आरोपी बरी हो गए हैं.

आपको बता दें मोदी सरकार में हुई 2G लाइसेंस की नीलामी में सरकार को करीब ढ़ाई लाख करोड़ रुपए की कमाई हुई है. 2010 में हुए इस 2जी घोटाले के खुलासे के बाद यूपीए सरकार कई विपक्षी दलों के निशाने पर आ गई थी. यहां तक कि वर्तमान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कई बार जनसभाओं में इस घोटाले का जिक्र करा है. 2014 में हुए लोकसभा चुनाव की रैलियों में इस 2जी घोटाले को लेकर नरेंद्र मोदी ने कई बार तत्कालीन प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह को कटघरे में खड़ा किया था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here