विदिशा: मध्य प्रदेश के विदिशा जिले में नकली किन्नरों के गिरोह का पर्दाफाश हुआ है। पुलिस ने लोगों से ठगी करने वाले गिरोह के 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। दरअसल, शहर में कुछ दिनों से अनावश्यक वसूली करने, बधाई देने के नाम पर उगाही करने की शिकायतें मिल रही थीं। फिलहाल, सिविल लाइन पुलिस ने जालोरी पेट्रोल पंप के नजदीक से कार में मौजूद 4 आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है। इसके अलावा पुलिस पूछताछ में यह भी स्पष्ट हुआ है कि पकड़े गए चारों आरोपी पुरुष हैं जो कि नकली किन्नर बनकर अड़ी बाजी और ठगी का काम कर रहे थे। उनके पास से दो अंगूठी भी बरामद हुई हैं। वहीं सिविल लाइन थाना टीआई योगेंद्र सिंह ने बताया कि चारों आरोपियों को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

बता दें कि शहर में पिछले कई दिनों से यह नकली किन्नरों का गिरोह सक्रिय था और कई लोगों के साथ ठगी की वारदात को अंजाम दे चुका था। पुलिस इनकी तलाश में जुटी हुई थी। एसएटीआई के सामने एक कार खड़ी हुई थी जब पुलिस ने कार में सवार लोगों से पूछताछ की तो संतुष्टि पूर्ण जवाव नहीं मिले। इस दौरान जब कार की तालाशी ली तो कार से टॉर्च रस्सीयां, रॉड समेत अन्य सामान मिले।

वहीं जब पुलिस ने चारों संदिग्ध लोगों से थाने में ले जाकर सख्ती से पूछताछ की तो पता चला कि यही वो नकली किन्नर हैं जिनकी कई दिनों से पुलिस को तालाश थी। यह किसी नये शिकार की तालाश में खड़े हुए थे। दिन में यह लोग नकली किन्नर बनकर लोगों को दुआ और आशीर्वाद देकर ठगने का काम करते थे और रात के समय सूने मकानों पर धावा बोलते थे।

 

यह भी पढ़ें: MP: कार में मिली युवक की लाश, इलाके में मचा हड़कंप

ताजा खबरें

मैं एक स्वतंत्र हिंदी पत्रकार, लेखक, पीआर सलाहकार और सोशल मीडिया मैनेजर के रूप...

Leave a comment

Your email address will not be published.