दुर्ग: छत्तीसगढ़ के दुर्ग शहर का हाईप्रोफाइल केस एक बार फिर से ओपन हो गया है। बात कर रहे हैं होटल सागर के मालिक और उसकी बेटी की। दोनों के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। कोर्ट के आदेश के बाद यह केस रजिस्टर्ड हुआ है। दुर्ग जिला न्यायालय की प्रथम न्यायिक मजिस्ट्रेट अंकिता गुप्ता ने वर पक्ष के परिवाद पर वधु पक्ष के खिलाफ गंभीर धाराओं में जुर्म पंजीबद्ध कर 3 दिन के भीतर न्यायालय में उपस्थित होने का आदेश दिया है।

मामला का रोचक पहलू यह है कि पहले महिला ने अपने पति और ससूराल पक्ष पर दहेज प्रताड़ना का केस दर्ज कराया। इसके बाद दोनों पक्षों के बीच समझौता हुआ कि वे कहीं कोई केस, दावा या शिकायत नहीं करेंगे। लिखित में समझौता कर वधु पक्ष ने वर पक्ष से 3 करोड़ 5 लाख रुपए ले लिए और रुपए मिलने के बाद इकरारनामा समझौते से महिला और उसके पिता मुकर गए।

मामले पर वर पक्ष ने न्यायालय में सभी सबूत और गवाहों को पेश किया है। जिसके आधार पर न्यायालय ने फैसला लिया है कि आरोपी महिला और उसके पिता के खिलाफ धारा 383, 405, 406, 415, 418, 420, 120 बी, 34 के तहत अपराध दर्ज करने का ओदश दिया है और आदेश के  साथ ही अपराध भी दर्ज कर लिया गया है। साथ ही नोटिस जारी कर 20 मई तक न्यायालय में उपस्थित होने का आदेश भी दिया है। इस केस में अधिवक्ता रविशंकर सिंह और अभिषेक वैष्णव हैं।

 

यह भी पढ़ें: Chhattisgarh News: सीएम भूपेश के दौरे से पहले माओवादी संगठन ने मार्ग में लगाए बैनर पोस्टर, इलाके में फैली सनसनी

Ankit Sharma

मैं एक स्वतंत्र हिंदी पत्रकार, लेखक, पीआर सलाहकार और सोशल मीडिया मैनेजर के रूप...

Leave a comment

Your email address will not be published.