आयुष्मान भारत योजना के तहत 10 करोड़ लोगों को मिलेगा स्वास्थ्य बीमा

आयुष्मान भारत के लिए पहले साल 12 हजार करोड़ रुपये तो दूसरे साल 22 हजार करोड़ रुपये का प्रीमियम देना होगा. केंद्र सरकार को प्रति परिवार 1180 रुपए के प्रीमियम का आकलन किया है. नीति आयोग इस मामले में अस्पतालों और बीमा कंपनियों से तोल-मोल करेगी.

10 करोड़ परिवारों को पांच लाख रुपये का बीमा देने के लिए केंद्र सरकार को पहले साल 12 हजार करोड़ रुपये और दूसरे साल 22 हजार करोड़ रुपये का प्रीमियम देना होगा. प्रति परिवार को 1180 रुपये वार्षिक के प्रीमियम का अनुमान लगाया है. स्वास्थ्य सुरक्षा योजना में पहले साल सभी बीमारियों को नहीं जोड़ा जाएगा, लेकिन अगले साल योजना की समीक्षा कर उसका दायरा बढ़ाया जाएगा.

बजट में घोषित आयुष्मान भारत योजना के तहत 10 करोड़ लोगों को पांच लाख रुपये का स्वास्थ्य बीमा दिया जाएगा. बजट में केवल दो हजार रुपये का प्रावधान किया गया है. योजना की विस्तृत रिपोर्ट नीति आयोग तैयार कर रहा है. नीति आयोग सूत्रों के अनुसार पहले साल करीब 1180 रुपए प्रति परिवार का प्रीमियम का खर्चा आयेगा. अनुमान है की सरकार को 12 हजार करोड़ रुपए पहले साल देने होंगे, लेकिन अगले साल से प्रीमियम की राशि को बढ़ा दिया जाएगा. राजस्थान सरकार ने 350 रुपये के प्रीमियम में तीन लाख रुपये का बीमा उपलब्ध कराया है. अब यह प्रीमियम बढ़कर करीब 1200 रुपये हो गया है. पश्चिम बंगाल सरकार भी पांच रुपये का बीमा दे रही है. केंद्र सरकार ने पहले साल 10 करोड़ परिवारों का अनुमान लगया है, लेकिन इसमें बढ़ोत्तरी होगी. क्योंकि बहुत से परिवार ऐसे हैं जो बीपीएल की श्रेणी में नहीं आते हैं, लेकिन उनकी स्थिति बीपीएल के अच्छी नहीं है. आयोग का कहना है की बीमाधारकों की संख्या करोड़ों में होने के कारण सरकार के पास बीमा कंपनियों और अस्पतालों के साथ बार्गेन करने की ताकत होगी.

सूत्रों का कहना है की पहले चरण में बीमा कवरेज में सभी बीमारियों को शामिल नहीं किया जाएगा. पहले चरण के अनुभव के आधार पर दूसरे चरण में बीमारियों की संख्या जोड़ी जाएगी. सरकार बीमारियों के हिसाब उनके रेट भी तय करेगी. सूत्रों का कहना है की स्वास्थ्य सुरक्षा योजना का खर्च केंद्र सरकार और राज्यों के बीच 60/40 के अनुपात में उठायेगी. यदि कोई राज्य अपनी ही बीमा योजना चलाना चाहे तो वह स्वतंत्र होगा, जैसे की पश्चिम बंगाल, तमिलनाडु और राजस्थान चला रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here